आज तक पर डिबेट के दौरान एंकर ने बीजेपी प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी से पूछा कि इस ड्राइव के दौरान भी क्या भेदभाव हो सकता है? मंदिर छोड़कर मस्जिद और चर्चों को पहले ढहाया जाएगा या कुछ को बख्शा जाएगा। अगर सरकार की ऐसी कोई नीति है जो इस शक को दूर करे तो बताइए। इसका जवाब देते हुए बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि हमने तो धार्मिक स्थल हटाने की बात कही है। इसमें AIMIM और ओवैसी हिंदू-मुस्लिम ढूंढ रहे हैं।

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि बाराबंकी में कौन सा धार्मिक स्थल हटाए गया। जिसके बाद पथराव हुआ। ओवैसी ने कहा कि यूपी में होने वाले एनकाउंटर में 37% मुसलमान मारे गए। इसकी जगह ओवैसी और AIMIM को मदरसों में जाकर बच्चों को समझाना चाहिए कि अपराध में शामिल नहीं होना चाहिए। प्रवक्ता ने कहा कि हम तो धार्मिक स्थल को लेकर कार्रवाई कर रहे हैं। जो भी आएगा उस पर कार्रवाई की जाएगी। इस पर AIMIM प्रवक्ता ने कहा कि हजारीबाग में जब हत्या की जाती है तो आरोपी को बीजेपी नेता माला पहनाने का काम करते हैं।

डिबेट में जब अनुराग भदौरिया बोलने लगे कि धर्म और जाति की राजनीति नहीं होनी चाहिए तो बीजेपी प्रवक्ता ने टोकते हुए कहा कि तो आपने फिर धर्म के आधार पर मामले वापस क्यों लिए थे?डिबेट में एंकर ने AIMIM नेता से कहा कि हाई कोर्ट का आदेश आया। सरकार ने जिलाधिकारियों को उसे लागू करने का आदेश दिया।


इसका जवाब देते हुए AIMIM नेता ने कहा कि मैं तो कोर्ट के आदेश के साथ हूं। न सिर्फ धार्मिक स्थल बल्कि कई ऐसे रसूखदार लोग हैं जिन्होंने अवैध तरीके से जमीनों पर कब्जा किया है उसको भी हटाया जाना चाहिए। नेता ने कहा कि अल्पसंख्यकों के धार्मिक स्थल अवैध जमीन पर नहीं बने होते हैं। प्रवक्ता एंकर से भिड़ गए कि मस्जिद कभी अवैध तरीके से नहीं बनाई जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.