अब मुस’लमानों को भी अपने पक्ष में करना चाहते हैं मोदी, हैदराबाद में भाजपा नेताओं को..

July 3, 2022 by No Comments

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव हों या फिर विधानसभा, ऐसा कम ही होता है कि भाजपा किसी मुस्लिम नेता को टिकट दे. पार्टी के ऊपर मुस्लिम विरोधी होने के आरोप भी लगते हैं और पार्टी के कई नेता ऐसी बयानबाज़ी करते रहे हैं जिसकी वजह से मुस्लिम समाज भाजपा से ‘उचित’ दूरी बनाकर रखता है. परन्तु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि भाजपा नेताओं को मुस्लिम समाज से नज़दीकी बढ़ाने की कोशिश करना चाहिए.

हैदराबाद में भाजपा की चल रही राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पीएम मोदी ने यूपी भाजपा को पसमांदा मुसलमानों के बीच काम करने की सलाह दी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश चुनावों के परिणामों से बहुत कुछ सीखा जा सकता है. हैदराबाद में बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में उत्तर प्रदेश की रिपोर्टिंग के समय पीएम ने यह टिप्पणी की है.

उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने राज्य की गतिविधियों का ज़िक्र करते समय आज़मगढ़ और रामपुर लोक सभा उपचुनाव में जीत का उल्लेख किया. इस दौरान कहा गया कि भाजपा ने आज़मगढ़ में जीत हासिल की, जो कि मुस्लिम यादव गठबंधन की सीट मानी जाती है. इस पर पीएम मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश राज्य के नेताओं को पसमांदा मुसलमानों के लिए काम करने की ज़रूरत है.

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार में इस समाज का प्रतिनिधित्व दिया गया है. पीएम मोदी ने कहा कि पिछले आठ सालों में सभी वर्गों को सरकार के काम से लाभ पहुंचा है. ग़ौरतलब है कि योगी सरकार में दानिश अंसारी को मंत्री बनाया गया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साथ ही कई सुझाव देते हुए कहा कि बीजेपी कार्यकर्ताओं को देश के विकास का संदेश लोगों तक ले जाना चाहिए. राष्ट्रपति पद के लिए एनडीए की उम्मीदवार द्रौपदी मूर्मु की सरलता, संघर्ष और सादगी का संदेश लोगों तक जाना चाहिए.

Leave a Comment

Your email address will not be published.