अब्दुल्ला आज़म के साथ अखिलेश का सबसे बड़ा रोड शो, ‘आज़म पर पेड़ चोरी, किताब चोरी जैसे आरोप..”

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज रामपुर जनपद में कई जनसभाओं को सम्बोधित किया। उन्होंने भाजपा सरकार को अन्यायी और झूठी सरकार है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने कोई वादा पूरा नहीं किया है। जनता को इनके झूठे वादों पर कोई भरोसा नहीं रह गया है। अब भाजपा के झूठ का जवाब जनता देगी।

उन्होंने ये भी कहा कि पहले चरण के चुनाव में किसानों, नौजवानों, व्यापारियों, महिलाओं ने भाजपा का सफाया कर दिया है। अब दूसरे चरण के चुनाव में भी भाजपा का नामोनिशान मिट जाएगा।रामपुर में उनके साथ आज़म ख़ान के बेटे अब्दुल्ला आज़म भी थे। अखिलेश यादव ने कहा कि मुहम्मद आज़म खान साहब और अब्दुल्ला आज़म को झूठे मुक़दमों में फंसाकर जेल में रखा गया। अब्दुल्ला आज़म परेशानी से निकलकर बाहर आ गए हैं लेकिन मुहम्मद आज़म ख़ान साहब दो साल से अभी भी जेल में हैं। भाजपा सरकार ने उनके ऊपर झूठे मुक़दमे लगाए हैं। मुक़दमे भी पेड़ चोरी, किताब चोरी और बकरी चोरी जैसे हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि मुहम्मद आज़म ख़ान साहब ने विश्वविद्यालय बनाया है। शिक्षा के लिए बड़ा काम किया है। छात्रों और नौजवानों का भविष्य बेहतर बनाने के लिए काम किया है। क्या वे किताब चोरी और पेड़ चोरी करेंगे। उन्होंने बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जिसकी जितनी छोटी सोच होती है उसके आरोप भी उतने ही छोटे होते हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि आज़म ख़ान साहब विश्वविद्यालय बनाकर आने वाली पीढ़ियों का भविष्य संवारने का काम कर रहे थे लेकिन भाजपा को यह बर्दाश्त नहीं हुआ। भाजपा सरकार ने झूठे मुक़दमे लगाए। अखिलेश ने कहा कि झूठे मुक़दमे की उम्र ज्यादा नहीं होती है। झूठे मुक़दमों का भी सफ़ाया होगा।

उन्होंने कहा कि किसानों को जीप से कुचलने वाला जेल से बाहर आ गया और विश्वविद्यालय बनाने वाला ग़रीबों को शिक्षा दिलाने वाला 2 साल से झूठे मुक़दमों में जेल में है। यही भाजपा का न्यू इंडिया है। उन्होंने कहा कि दुनिया में किसानों को जीप से कुचल कर मार देने का कोई दूसरा उदाहरण कहीं नहीं मिलेगा।

अखिलेश ने कहा कि भाजपा सरकार उद्योगपतियों को फ़ायदे के लिए तीन काले कृषि कानून लाई थी लेकिन हमारे किसानों ने आंदोलन से भाजपा सरकार को झुका दिया। इस आंदोलन में 700 किसान शहीद हुए लेकिन जब देश और प्रदेश के दूसरे हिस्सों के किसान हमारे किसानों के समर्थन में उतर आए तो भाजपा डर गई। उसने तीन काले कृषि कानूनों को वापस ले लिया लेकिन इनका भरोसा नहीं है।

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा लोकतंत्र और संविधान विरोधी पार्टी है। यह कुछ भी कर सकती है। समाजवादी पार्टी गठबंधन की सरकार बनने पर आंदोलन में शहीद किसानों के परिजनों को 25-25 लाख रुपए देकर मदद करेंगे। शहीद किसानों की याद में स्मारक बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह चुनाव लोकतंत्र संविधान और हक बचाने का चुनाव है। भाजपा जिस तरह का काम कर रही है, हो सकता है कि वह आने वाले समय में संविधान ही बदल दे।

अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी सरकार गरीबों की नहीं उद्योगपतियों की सरकार है। कोरोना काल में हमारे ग़रीब और ग़रीब हो गए। बड़ी संख्या में लोगों की नौकरी चली गई, लोग बेरोजगार हो गए लेकिन कुछ उद्योगपतियों की संपत्ति लगातार बढ़ रही है। एक उद्योगपति जो पीछे थे, अब वह देश के सबसे बड़े उद्योगपति हो गए हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा की डबल इंजन की सरकार डबल भ्रष्टाचार कर रही है। भाजपा सरकार ने कहा था कि नोटबंदी से भ्रष्टाचार खत्म हो जाएगा। लेकिन आज हर स्तर पर भ्रष्टाचार बढ़ गया है। सपा सरकार आने पर थाने और तहसीलों को भ्रष्टाचार से मुक्त करेंगे। प्रदेश की जनता को महंगाई, बेरोजगारी से राहत दिलाएंगे।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने आम जनता और किसानों को महंगी बिजली दिया और ऊपर से मुकदमे भी कर दिए। समाजवादी सरकार आने पर 300 यूनिट घरेलू बिजली मुफ्त देंगे और साथ में किसानों को सिंचाई के लिए बिजली पूरी तरह से फ्री होगी। गन्ना किसानों को गन्ने के भुगतान के लिए धरना नहीं देना पड़ेगा। सरकार की बजट से कार्पस फंड बनाएंगे और किसानों के गन्ने का 15 दिन के अंदर भुगतान करेंगे। किसानों को 2 बोरी डीएपी और 5 बोरी यूरिया भी दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी नौजवानों की गर्मी निकालने की बात करते हैं। हमारी सरकार आएगी तो हम नौजवानों को नौकरी के लिए भर्ती निकालेंगे। भाजपा सरकार में किसी भी फसल की कीमत नहीं मिली। समाजवादी सरकार बनने पर हर फसल के लिए एमएसपी देंगे।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार सब कुछ बेच रही है। हवाई जहाज, बेच दिया, एयरपोर्ट बेच, दिया पानी के जहाज बेच दिया, बंदरगाह बेच दिया, ट्रेनें बेच रहे हैं, रेलवे स्टेशन बेच रहे हैं। अगर सब कुछ बिक जाएगा तो हमारे नौजवानों को हक और नौकरी कहां मिलेगी। अखिलेश ने कहा कि समाजवादी सरकार बनने पर कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाल करेंगे। कानून व्यवस्था को मजबूत करने के लिए पुलिस सिस्टम को मजबूत करेंगे। भाजपा ने डायल 100 का 112 करके पुलिस का कबाड़ा कर दिया।

आपको बता दें कि रामपुर ज़िले में दूसरे चरण में मतदान होगा। 14 फ़रवरी को वोटिंग होगी और 12 फ़रवरी को चुनाव प्रचार बन्द हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.