मुख्तार अंसारी के भाई ने की अंजना ओम कश्यप की किरकिरी, बोले- इतनी बड़ी पत्रकार हैं और….

April 7, 2021 by No Comments

उत्तर प्रदेश के बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी को करीब 2 साल बाद पंजाब की रोपड़ जेल से वापस उत्तर प्रदेश की जेल भेज दिया गया है। बुधवार की सुबह ही बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी को यूपी के बांदा जेल में शिफ्ट किया गया है। इससे पहले वह 2 साल तक पंजाब जी रोपड़ जेल में बंद थे।

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट की दखलंदाजी के बाद ही मुख्तार अंसारी को वापस उत्तर प्रदेश की जेल में शिफ्ट किया गया है। इससे पहले पंजाब के रोपड़ जेल से कई बार मुख्तार अंसारी को वापस उत्तर प्रदेश भेजने से इंकार कर दिया गया था। जिसके पीछे मुख्तार अंसारी की सेहत खराब होने के कारण दिए जा रहे थे। लेकिन उत्तर प्रदेश की योगी सरकार मुख्तार अंसारी को वापस लाने की जी तोड़ कोशिश कर रही थी।

आपको बता दें कि बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी पर ह’त्या और ‘फिरौती जैसे कई संगीन मामले दर्ज हैं। हालांकि बावजूद इसके मुख्तार अंसारी के सांसद भाई अफजाल अंसारी न्यूज़ चैनल पर उनका बचाव करते हुए नजर आते हैं। अफजाल अंसारी हाल ही में आज तक न्यूज़ चैनल में 18 के लिए पहुंचे थे। जहां पर आज तक की न्यूज़ एंकर अंजना ओम कश्यप से उनकी जमकर बहस हुई।

दरअसल आजतक की न्यूज़ एंकर अंजना ओम कश्यप ने अफजाल अंसारी से पूछा कि आखिर पंजाब की रोपड़ जेल में ऐसा क्या था कि मुख्तार वहां से आने को राजी ही नहीं हो रहे थे। पंजाब सरकार से मुख्तार अंसारी की ये कैसी सेटिंग थी।

इन सवालों का जवाब देने से पहले मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल अंसारी ने अंजना ओम कश्यप से कहा कि आप इतनी बड़ी पत्रकार हैं। आपका चैनल लाखों लोगों द्वारा देखा जाता है। ऐसे में आप लोगों को कोई भी बात रखने से पहले तथ्यों को क्यों नहीं रखते अफजाल अंसारी ने अपने भाई का मजाक करते हुए कहा कि जैसा आप लोग दिखा रहे हैं।

अफजाल ने अपने भाई का बचाव करते हुए कहा कि जैसा आप लोग दिखा रहे हैं कि मुक्तार पर 50 आ’परा’धिक मामले हैं तो ये गलत है। उनपर सिर्फ 13 मामले हैं जो विचाराधीन हैं। और इसमें से भी महज 2 या तीन ही वी’भ’त्स अपराध हैं।

अफजाल की ये बात सुन अंजना भ’ड़क गईं। अंजना उनसे कहने लगीं कि आप क्या बोल रहे हैं ये खुद को सुनाई दे रहा है कि नहीं। आप एक सांसद हैं और इस तरह से बचाव कर रहे हैं कि सिर्फ दो या तीन ही गं’भीर अ’पराध है। ये तो बेहद श’र्मना’क है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *