अखिलेश यादव पूर्वी उत्तर प्रदेश की आजमगढ़ सीट से सांसद हैं और उन्होंने राज्य विधानसभा का चुनाव इससे पहले कभी नहीं लड़ा है.सूत्रों ने कहा कि वह किस सीट से चुनावी मैदान में उतरेंगे इसका फैसला होना बाकी है.सूत्रों ने कहा कि बीजेपी के उत्तर प्रदेश के मौजूदा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ाने के ऐलान के बाद सपा प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री पर दबाव बढ़ गया था.

योगी आदित्यनाथ गोरखपुर से चुनाव लड़ेंगे.सपा के नज़दीकी सूत्रों के मुताबिक,सपा प्रमुख अखिलेश यादव विधानसभा का चुनाव ल,ड़ेंगे.

वह किस विधानसभा सीट से लड़ेंगे ये अभी तय नहीं है.इस पर बाद में फ़ैसला होगा.सैफ़ई,मैनपुरी,आज़मगढ़ या कोई और भी सीट हो सकती है.

हालांकि,उनका विधानसभा चुनाव लड़ना तय है.सपा प्रमुख अखिलेश यादव की आज दोपहर एक बजे समाजवादी पार्टी कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस होनी है.

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी ने सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के परिवार में बड़ी सेंधमारी की है.

मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव बुधवार को बीजेपी में शामिल हो गईं.अपर्णा यादव मुलायम सिंह के छोटे बेटे और सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के छोटे भाई प्रतीक यादव की पत्नी हैं. बीजेपी ने अपर्णा यादव के पार्टी में शामिल का स्वागत किया है.

यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, “हम आपका भाजपा परिवार में स्वागत करते हैं. हमें यह कहते हुए खुशी हो रही है कि मुलायम सिंह यादव की बहू होने के बावजूद उन्होंने (अपर्णा ने) अक्सर भाजपा के काम की सराहना की है.”