अखिलेश ने अपने क़रीबी नेता को भेजा इस बड़ी नेत्री के पास, अब UP की सियासत में…

लखनऊ: इस समय अगर किसी चीज़ की सबसे अधिक चर्चा है तो वो है उत्तर प्रदेश चुनाव की. इस चुनाव पर पूरे देश की नज़र है. विपक्ष इस कोशिश में है कि भाजपा को एक बड़े राज्य की सत्ता से बेदख़ल किया जाए वहीं भाजपा भी पूरी कोशिश में है कि वो एक बार फिर सत्ता पर क़ाबिज़ हो. उत्तर प्रदेश चुनाव में मुख्य मुक़ाबला भाजपा और सपा में दिख रहा है.

कई चुनावी विश्लेषक मान रहे हैं कि इस बार ल’ड़ाई कांटे की है. वहीं सपा को अब उत्तर प्रदेश के बाहर से भी सहयोग मिल रहा है. ख़बर है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की नेत्री ममता बनर्जी ने सपा को समर्थन देने का एलान किया है. इतना ही नहीं वो उत्तर प्रदेश का दौरा भी करेंगी.

ख़बर है कि ममता बनर्जी 8 फरवरी को अखिलेश यादव के साथ समाजवादी पार्टी के लिए प्रचार करेंगी. दरअसल खुद अखिलेश यादव ये चाहते थे कि दीदी यूपी में उनकी पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करें. अखिलेश यादव के क़रीबी सूत्र बताते हैं कि अखिलेश यादव चाहते थे कि ममता बनर्जी ख़ुद उत्तर प्रदेश में आकर प्रचार करें. अखिलेश की बात को मानते हुए ममता बनर्जी ने उत्तर प्रदेश आकर प्रचार करने का फ़ैसला किया.

अखिलेश ने अपनी बात सपा के वरिष्ठ नेता किरणमय नंदा के ज़रिए पहुंचाई थी. किरणमय नंदा सोमवार शाम को ही कोलकाता पहुंचे थे जिसके बाद आज शाम को उन्होंने सीएम आवास पर ममता बनर्जी के साथ मुलाकात की और अखिलेश की गुज़ारिश को उनके सामने रखा. जिसके बाद ममता ने इस पर अपनी सहमति दे दी है.

किरणमय नंदा ने मीडिया को बताया कि ममता बनर्जी 8 फरवरी को उत्तर प्रदेश का दौरा करेंगी और अखिलेश यादव के साथ लखनऊ और वाराणसी में होने वाली वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल होंगी. इससे पहले उन्होंने अखिलेश से कहा था कि अगर उन्हें जरुरत पड़ी तो वो यूपी आकर भी उनके लिए प्रचार करेंगी, जिसके बाद अखिलेश ने उन्हें सपा के लिए प्रचार करने की अपील की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.