त्रिपुरा में मुख्यमंत्री बिप्लव कुमार देव के नेतृ’त्व वाली भाजपा सरकार पर खत’रा मं’डरा रहा है। पिछले कुछ दिनों से लगभग सात बीजेपी विधायक देश की राजधानी दिल्ली में डे’रा डाले हुए हैं। इन सभी विधायकों ने सीएम बिप्लव को ताना’शाह करार कर उनके इस्तीफे की मांग की है। यह सभी नेता हाई कमान से बात करना चाहते हैं। विधायकों का कहना है कि बिप्लव तानाशाही अंदाज में सरकार चला रहे हैं। यही नहीं बल्कि दो और बीजेपी विधायकों के समर्थ’न में आने का दावा भी किया जा रहा है।

बता दें कि इन विधायकों में सुशांत चौधरी, आशीष साहा, आशीष दास, दीवा चंद्र रांखल, बुर्ब मोहन त्रिपुरा, परिमल देब बरम, राम प्रसाद पाल और सुदीप रॉय बर्मन के नाम शामिल हैं। सुदीप रॉय बर्मन इन विधायकों का नेतृत्व कर रहे हैं। इनका कहना है कि इन्हें 2 और विधायक बीरेंद्र किशोर देब बर्मन और बिप्लब घोष का समर्थन हासिल है, जो कि कोरो’ना वाय’रस की वजह से दिल्ली नहीं आ सके हैं। राज्य की कुल विधानसभा सीटों में से बीजेपी के पास 36 विधायक हैं।

एक ओर जहां बीजेपी के नेता सीएम पर इल्ज़ा’म लगा रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर त्रिपुरा के सीएम के सपो’र्ट पर उतरे नेताओं का कहना है कि राज्य की सरकार को कोई खत’रा नहीं है। इस बारे में बीजेपी अध्यक्ष माणिक साहा ने कहा, “सरकार सुरक्षित है और सात या आठ विधायक सरकार को नहीं गिरा सकते।” इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उन्हें इन सातों विधायकों की शिका’यतों की कोई जानकारी नहीं है। इसके साथ ही यह खबरें भी आ रहीं हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी सीएम बिप्लब देव पर पूरा भरो’सा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.