समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और रामपुर से सपा सांसद मोहम्मद आजम खान को हर कोई जानता है आज़म खान का जन्म रामपुर, उत्तर प्रदेश, भारत में मुमताज़ खान के यहाँ हुआ था। उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में भाग लिया और 1974 में कानून में स्नातक की डिग्री प्राप्त की। खान ने 1981 में तज़ीन फात्मा से शादी की और उनके दो बेटे हैं। राजनीति में आने से पहले, उन्होंने एक वकील के रूप में काम किया। उनके बेटे अब्दुल्ला आज़म खान 2017 से 2019 तक सुआर से विधायक थे।

आज़म खान नौ बार रामपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक रह चुके हैं वह उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री भी थे आज़म खान इन दिनों कई विवादों को लेकर जेल में थे , हाल ही में कोरोना पॉज़िटिव होने की वजह से उनकी तबीयतकाफी खराब हो गई थी, उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और रामपुर से सांसद मोहम्मद आजम खान (72) की हालत में सुधार हो रहा है.

मेदांता अस्पताल की ओर से रविवार को जारी एक बयान में बताया गया कि कोविड के कारण गंभीर संक्रमण की वजह से खान को अब भी आईसीयू में रखा गया है, लेकिन उन्हें कल की अपेक्षा ऑक्सीजन की जरूरत कम पड़ रही है. बयान के अनुसार, रविवार को खान की तबीयत बेहतर और संतोषजनक है और उनका इलाज गंभीर संक्रमण रोग प्रोटोकॉल के तहत मेदांता हॉस्पिटल, लखनऊ की क्रिटिकल केयर टीम के डॉक्टरों की कड़ी निगरानी में चल रहा है


आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला खान को 09 मई की शाम को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वह और उनके बेटे सीतापुर के जिला जेल में कोविड-19 से संक्रमित पाए गए थे और उन्हें बेहतर इलाज के लिए लखनऊ में भर्ती कराया गया. आजम खान पिछले साल से ही जमीन कब्जा करने और अन्य आपराधिक मामलों में अपने पुत्र के साथ सीतापुर के जिला जेल में बंद थे. अब्दुल्ला खान की स्थिति स्थिर और संतोषजनक बताई गई है और उन्हें भी डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है.