राम मंदिर निर्माण में तेज़ी लेकिन बदले मिली मस्जिद को बनाने मे सरकारी विभाग लगा रहे…

August 31, 2022 by No Comments

बाबरी मस्जिद Babri Masjid और रामजन्म भूमि विवाद का फैसला आ चुका है लंबे समय तक चलने वाले इस केस पर जहाँ सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला राम मंदिर के पक्ष मे दिया था तो वही दूसरी तरफ मस्जिद पक्ष को भी अयोध्या में 5 एकड़ ज़मीन मस्जिद बनाने के लिये दी गई थी,एक तरफ जहाँ राम मंदिर बनने का काम सरकार की निगरानी में तेज़ी से हो रहा है तो वही दोसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट की तरफ से बदले में मिली मस्जिद की ज़मीन पर तो अभी तक काम भी शुरु नही हो सका है।

गौर तलब रहे कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद धन्नीपर में सुन्नी वक़्फ बोर्ड को ज़मीन दी गई थी,जिस पर बोर्ड ने इस्लामिक कल्चरल सेन्टर, मस्जिद और एक अस्पताल के निर्माण को मंजूरी दी थी,मस्जिद का नक्शा भी बन गया लेकिन 15 महीने के बाद भी उस नक्शे को सरकार से मंजूरी नही मिल सकी है,जानकारी के अनुसार अयोध्या विकास प्राधिकरण के किसी भी विभाग ने अभी तक एनओसी जारी नही की है।

वही अयोध्या विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विशाल सिंह का कहना है कि एनओसी न मिल पाने के कारण मस्जिद का मानचित्र स्वीकृत नहीं हो पाया है. प्राधिकरण की तरफ से कोई देर नहीं हो रही है इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन के सदस्यो ने जब उनसे मुलाकात की थी तब भी उन्होने यही बात बताई थी लेकिन डेढ़ महीने के बाद भी अभी तक प्राधिकरण ने कोई जवाब नही दिया है,जबकि इस मामले को लेकर सुन्नी वक़्फ बोर्ड के चेयरमैन ज़ुफर फारूकी खुद प्राधिकरण जा चुके है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.