बाहुबली मुख्तार अंसारी को यूपी लाए जाने पर बोले अखिलेश, अज़ान मामले पर भी…

March 31, 2021 by No Comments

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों को अभी एक साल का वक्त पड़ा है। लेकिन सभी राजनीतिक दलों ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए अभी से ही तैयारियां शुरू कर दी है। बताया जाता है कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव इन दिनों राज्य भर का दौरा कर रहे हैं और बहुत ही मु’खरता के साथ योगी सरकार के शासनकाल में प्रदेश में होने वाली सियासी गतिविधियों पर मुखर होकर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

बीते दिनों मऊ विधानसभा से बहुजन समाज पार्टी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को वापस उत्तर प्रदेश लाए जाने का मामला काफी ग’रमाया हुआ था। दरअसल योगी सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में इस मामले में डाली गई याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश दिया गया है कि बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश लाया जाए।

इससे पहले इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर संगीता श्रीवास्तव ने कुछ दिनों पहले ही मस्जिदों में होने वाली नमाज पर रोक लगाए जाने की मांग उठाई थी। जिसको लेकर काफी वि’वाद भी हुआ था। एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बाहुबली मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश लाए जाने के मामले पर कहा कि प्रदेश की योगी सरकार हर मु’द्दे पर राजनीति कर रही है।

मुख्तार अंसारी को सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश के अनुसार यूपी लाए जाने के मामले पर यूपी सरकार की जिम्मेदारी है कि मुख्तार अंसारी को सु’रक्षा दी जाए। क्योंकि लोगों में इस बात का ड’र है कि उनको उत्तर प्रदेश लाए जाने के बाद उनका एन’का’उं’ट’र किया जा सकता है। या उनकी गाड़ी पल’टी जा सकती है।

जैसा कि पहले भी हो चुका है अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्तार अंसारी ने अगर उत्तर प्रदेश छो’ड़ा था तो सु’रक्षा के लि’हा’ज से छो’ड़ा था आज देखा जा रहा है कि एक पर एक इन’का’उं’ट’र हो रहे हैं।कोर्ट परिसर तक में ह’त्या हो जा रही है।

अखिलेश यादव ने यह भी कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने मुख्तार अंसारी को यूपी लाए जाने का आदेश दिया है तो उनकी सु’रक्षा को लेकर के भी बातें कहीं होंगी जिसे प्रदेश की योगी सरकार को जिम्मेदारी से निभाना पड़ेगा।

बीते दिनों इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय की कुलपति एवं प्रोफेसर संगीता श्रीवास्तव ने म’स्जिद में होने वाली अ’जा’न को लेकर वि’वा’दि’त बयान दिया था और कहा था कि अ’ज़ा’न की वजह से उनकी नीं’द खुल जाती है। इसलिए अ’जा’न पर रो’क लगाई जानी चाहिए।

अखिलेश यादव ने कहा कि आज विश्वविद्यालयों में कोई द’लि’त,पिछड़ा या मु’स्लिम समाज का व्यक्ति कुलपति प्रोफेसर क्यों नहीं बनाया जा रहा है। अखिलेश यादव ने यह भी कहा कि हमारे देश में हिं’दू मु’स्लिम सि’ख इ’सा’ई सारे लोग मिल जुल कर रहते हैं। कुछ सालों पहले तक अ’जा’न को लेकर किसी को भी दि’क्क’त नहीं थी। लेकिन आज इस तरह के मु’द्दों में उ’ल’झा कर भारतीय जनता पार्टी जनता के मू’ल मु’द्दों से बचना चाहती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *