उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए हुए मतदान की मतगणना जारी है। प्रदेश की कुल 403 विधानसभा सीटों पर 7 चरणों में मतदान हुआ है। अब तक जो रुझान सामने आ रहे हैं। उसके तहत तो उत्तर प्रदेश में एक बार फिर से भारतीय जनता पार्टी की ही सरकार बनने जा रही है।

403 में से करीब 270 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी आगे चल रही है। वहीं समाजवादी पार्टी 118 और कांग्रेस के साथ साथ में बहुजन समाज पार्टी 4000 वोटों पर आगे चल रही है या नो में उत्तर प्रदेश के कई बाहुबली नेताओं की किस्मत का भी फैसला होने वाला है। मऊ सदर सीट से बात की जाए तो बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी इस बार में किस्मत आजमा रहे हैं

जो कि इस वक्त 40000 वोटों से आगे चल रहे हैं। मऊ सदर सीट से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले अब्बास अंसारी को 88000 वोट मिल चुके हैं। जबकि भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार अशोक सिंह दूसरे नंबर पर है।

अगर वोटिंग प्रतिशत की बात की जाए तो मऊ सदर विधानसभा में इस बार 57.91 फीसदी मतदान हुआ था। यहां सातवें और आखिरी चरण के तहत वोटिंग हुई थी। मऊ सदर सीट से जेल में बंद मुख्तार अंसारी मौजूदा विधायक हैं। उन्होंने 2017 के विधानसभा चुनाव में सुभासपा के महेंद्र राजभर को 10 हजार से कम मतों से हराया था।

आपको बता दें कि बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी मऊ सदर सीट से लगातार चार बार विधायक रह चुके हैं। लेकिन इस बार उनकी जगह उनके बेटे के चुनावी दंगल में उतरे हैं। विधानसभा चुनाव लड़ने वाले अब्बास अंसारी इससे पहले साल 2017 में घोसी विधानसभा सीट से बहुजन समाज पार्टी की टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं। लेकिन उस वक्त उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

इस बार माना जा रहा है कि अब्बास अंसारी मऊ विधानसभा सीट से जीत हासिल कर भाजपा उम्मीदवार को हराने वाले हैं।

पंजाब चुनाव: पंजाब में विधानसभा चुनाव के चौंकाने वाले नतीजे आए हैं. यहाँ आम आदमी पार्टी ने बहुमत हासिल कर लिया है और पार्टी के नेता भगवंत मान के नेतृत्व में जल्द ही आम आदमी पार्टी की सरकार बनने जा रही है. राज्य की 117 विधानसभा सीटों में से आम आदमी पार्टी ने 92 सीटों पर या तो जीत हासिल कर ली है या बढ़त बनाए हुए है. वहीं दूसरे स्थान पर कांग्रेस पार्टी है. कांग्रेस को राज्य में 18 सीटें मिलती दिख रही हैं.

अकाली दल को 3 और भाजपा को दो सीटें मिलती दिख रही हैं. बसपा को एक सीट और एक सीट निर्दलीय उम्मीदवार के खाते में जाती दिख रही है. आम आदमी पार्टी को राज्य में 42% से भी अधिक वोट मिला है जबकि कांग्रेस को 22.9% वोट मिला है वहीं अकाली दल को भी 18% वोट मिला है. पंजाब में इस बार कई बड़े दिग्गज नेताओं का क़िला ध्वस्त हो गया.

कांग्रेस के चरणजीत सिंह चन्नी दोनों सीटों से चुनाव हार गए. अमृतसर पूर्व से नवजोत सिंह सिद्धू भी चुनाव हार गए. पटियाला से अमरिंदर सिंह को भी शिकस्त मिली जबकि आम आदमी पार्टी इन सभी सीटों पर कामयाब हुई. आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री उम्मीदवार भगवंत मान ने धुरी से चुनाव जीत लिया है.