अलीगढ़:भगवा भी’ड़ ने मुस्लिम परिवार को घेरा लेकिन तभी आ गयी ये हिन्दू लड़की…फिर इसने जो किया वो मिसाल बन गया

-यूपी के अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची की नि-र्मम ह’त्या के बाद टप्पल में हालात अभी भी तना’वपूर्ण बने हुए हैं।रविवार को हरियाणा से अलीगढ़ सगाई समारोह में शामिल होने आए एक मुस्लिम परिवार पर भी’ड़ ने हम’ला कर दिया।कार से खींचकर लोगों को पी’टा,गाड़ियों में तोड़फो’ड़ की गई।हम’लावर कार को आग लगाने की धम’की दे रहे थे।हालांकि,इस दौरान मुस्लिम परिवार के साथ आई उनकी परिवारिक मित्र पूजा चौहान ने साहस दिखाते हुए भी’ड़ का सामना किया और परिवार की जा’न बचाई।

एसएसपी आकाश कुल्हरि का कहना है कि मामले में केस दर्ज कर लिया गया है।घटना अलीगढ़ से 40 किमी दूर जट्टारी इलाके की है।जब हरियाणा के बालाबगढ़ से एक परिवार सगाई समारोह में शामिल होने आ रहा था।उनके साथ पूजा चौहान नाम की एक महिला भी थी,जो एक करीबी पारिवारिक मित्र थी।रास्ते में भीड़ ने कार को घेर लिया और कार में सवार लोगों को खींचकर पीटना शुरू कर दिया।

भगवा गमछा डाले कुछ युवकों ने लोहे की रॉड से हमला कर दिया।कार के शीरे तोड़ डाले।भीड़ उग्र होती जा रही थी और लोग कार को आग के हवाले करने की धमकी दे रहे थे।गाड़ी में सवार शफी मोहम्मद अब्बासी ने बताया,हमला’वरों ने लोहे की रॉड से हमारी गाड़ी पर हमला किया।वो हमें मार ही डालते अगर हमारी बेटी जैसी पूजा चौहान गाड़ी से उतरकर हमलावरों का सामना नहीं करती।पूजा ने हमलावरों से कहा,मासूम लोगों पर अपना गुस्सा क्यों दिखा रहे हो।बच्ची की हत्या पर हम लोग भी हैरान हैं,हमें भी गुस्सा है।

पूजा की बातों को सुनकर भीड़ में शामिल एक शख्स हमें हमारी कार की चाभी देता है और कहता है कि तुरंत चले जाओ यहां से।इसके बाद हम अलीगढ़ पहुंचते हैं।पुलिस का कहना है कि हमले में ड्राइवर का हाथ बुरी तरह जख्मी हुआ है।सिविल लाइंस पुलिस स्टेशन में दर्ज शिकायत के अनुसार,पूजा ने साहसपूर्वक उन हमलावरों का सामना किया जो भगवा गमछा पहने हुए थे।

इस मामले में कांग्रेस नेता और पूर्व विधायक हाजी जमीरुल्लाह खान ने कहा,मुझे लगता है कि पूजा हमारे देश के नागरिक के रूप में एक आदर्श हैं। ऐसे समय में जब लोगों में इंसानियत कम ही देखने को मिलती है,वह मानवता के लिए साहसपूर्वक खड़ी रही।उन्होंने हर व्यक्ति,धर्म और जाति के लोग बच्ची की हत्या से हैरान हैं।सिविल लाइंस एसओ अतिम कुमार ने बताया कि पीड़ितों को मेडिकल के ​लिए भेजा गया है।तनाव को देखते हुए पूरे जिले में सिक्युरिटी टाइट कर दी गई।