दोस्तों हर इन्सान के शरीर की बनावट अलग-अलग होती है.इसी तरह लोगों के शरीर पर अलग अलग तरह के निशान बने रहते हैं,किसी के शरीर पर टिल होता है,तो किसी के गाल पर डिम्पल होता है,इसी तरह से लोगों के शरीर पर निशान होता है.दोस्तों शास्त्र एक ऐसी विधा है जिसमें शरीर के अंगों की बनावट

और शरीर पर बने हुए चिन्ह एवं तिलों को देखकर इन्सान के बारे में जानकारी दी जाती है.शरीर पर बनने वाले कुछ चिन्हों और तिलों को अशुभ माना जाता है तो वहीं कुछ को बहुत ही शुभ माना जाता है.

इन में से कुछ निशान ऐसे होते हैं,जो इंसान को बहुत ज्यादा भाग्यशाली बनाते हैं।वहीँ कुछ ऐसे भी होते हैं,जो इन्सान को परेशानी में डाल देते हैं.तिलों और शरीर के अंगों की बनावट के बारे में बताया गया है,जिन लड़कियों के शरीर पर ये होते हैं उन्हें बहुत ही भाग्यशाली माना जाता है.

कहा जाता है कि यह निशान जिन के शरीर पर होता है,वह जहाँ भी जाती हैं, तो वहां सुख लाती हैं.जिन लड़कियों के पैर के तलवे में शंख, कमल या चक्र चिन्ह बना होता है वह अपने और परिवार के लिए बहुत भाग्यशाली होती हैं.वह खुद भी किसी ऊंचे पद पर पहुंचती हैं.

इसके साथ ही जिन लड़कियों के पैर का अंगूठा चौड़ा और गोलाई एवं लालिमा लिए हुए होता है।उनका पूरा परिवार सुखी जीवन गुजारता है.वहीँ यह भी बताया गया है कि जिन लड़कियों का माथा चौड़ा होता है वे बहुत भाग्यशाली होती हैं.

कहा जाता है कि अगर किसी लड़की का माथा तीन इंच चौड़ा हो तो उसे सब से ज्यादा भाग्यशाली माना जाता है.
कहा जाता है कि यह जिस घर में जाती हैं,वहां हमेशा के लिए सुख ही सुख रहता है रूस घर में कभी कोई परेशान नहीं रहता है.

वहीँ जिन लड़कियों की उंगलियां लंबी और सुंदर होती हैं वे अपने पति के लिए बहुत भाग्यशाली होती हैं.इनकी जिससे भी शादी होती हैं उसे नौकरी में खूब तरक्की होती है. उन्हें कभी किसी चीज़ में घाटा नहीं होता है, और न ही वह कभी परेशान होते हैं.