कोरो’नावाय’रस की इस महामा’री ने लोगों की नाक में द’म कर रखा है। वहीं इस महामा’री में जारी लॉ’क डा’उन की वजह से देश भर के अन्य राज्यों में फं’से मजदूरों को बहुत जो’खिम उठाना पढ़ रहा है। देश भर में फं’से मजदूर अपने घरों तक पहुंचने की कोशि’शों में जुटे हुए है। कहीं मज़दूर पैदल सफर कर अपने घरों की तरह रवाना हो रहा है तो कहीं वाहनों के जरिए उनको उनके राज्यों तक छोड़ा जा रहा है। ऐसे में काफी मज़दूर अपनी जा’न तक ग’वा बैठे है। शनिवार को हुए एक सड़क हा’दसे में तो 24 प्रवासी मजदूर मौ’त का शि’कार हुए है।

इस हा’दसे को देखते हुए यूपी सरकार के एक मंत्री ने ऐसा बयान दिया जिससे अब उनको विप’क्षी नेताओ का निशा’ना बनना पड़ा। बता दें कि यूपी के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग राज्यमंत्री उदयभान सिंह ने मजदूरों के उप्पर बात रखते हुए कहा कि “मजदूर खेतों से होकर चो’र-ड’कैत की तरह जा रहे हैं।” उनके इस बयान की वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए कांग्रेस के एक नेता ने उनको निशा’ना बनाया। उन्होंने कहा कि “कम से कम मजदूरों को चो’र ड’कैत तो मत कहो मंत्री जी।”

वीडियो में दिखाएं गए बयान में मंत्री उदयभान सिंह ने कहा कि “हा’दसे में जान गं’वाने वालों की आ’त्माओं को अपनी शर’ण में लें, लेकिन सच्चाई ये है कि उन्होंने धैर्य छोड़ा। हमने जगह जगह स्टॉल बनायी हुई हैं, जहां लोगों के खाने पीने और ठहरने की व्यवस्था की हुई है। कुछ लोग रुक रहे हैं कुछ नहीं रुक रहे। खेतों से भा’ग रहे हैं, ऐसे भाग रहे हैं जैसे चो’र ड’कैत। हम उन्हें बुला रहे हैं पानी पिला रहे हैं कुछ मान रहे हैं और कुछ नहीं मान रहे।” बता दें कि शनिवार को मजदूरों को लेकर जा रहे ट्रक का एक्सि’डेंट हो गया। औरैया जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर दूर मिहौली गांव में एक दूसरे डीसीएम से टक्क’र होने की वजह से 24 मजदूरों की जा’न चली गई और 22 लोग बुरी तरह घाय’ल हो गए। गौर करने वाली बात है कि पिछले कुछ दिनों में प्रवासी मजदूरों के काफी हा’दसे सामने आए है। जिसके चलते लगभग 96 प्रवासी मजदूरों की मौ’त हो चुकी है। लेकिन फिर भी इन मजदूरों का सफर जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.