बिहार के नालंदा के राजगीर विधानसभा क्षे’त्र में इसबार सबसे दिलच’स्प मुकाबला देखने को मिलेगा। इस सीट से जहां एक ओर जेडीयू से हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्या के बेटे कौशल किशोर चुनावी मैदान में उतरेंगे तो वहीं दूसरी ओर जेडीयू के ही के बागी और विधायक रहे रवि ज्योति कांग्रेस की तरफ से चुनाव ल’ड़ रहे हैं। मालूम हो कि कुछ समय पहले जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा था कि जो जहां पैदा हुआ है उसे वहीं भेज दिया जाएगा।

माना जा रहा था कि नीतीश कुमार ने यह बया’न रवि ज्योति पर रखकर कहा है, जिसके बाद काफी हंगा’मा भी हुआ था और यही वजह है कि जेडीयू से नारा’ज़ होकर रवि ज्योति कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। बता दें कि विधायक रवि ज्योति ने साल 2015 के विधानसभा चुनाव में राजगीर सीट पर काफी सालों से चल रही बीजेपी की सरकार को गि’रा कर जेडीयू का झंडा गा’ड़ा था। उन्होंने छह बार के बीजेपी विधायक रहे सत्यदेव नारायण आर्या को करारी मा’त दी थी, लेकिन इस बार नीतीश कुमार ने सत्यदेव नारायण आर्य के बेटे कौशल किशोर को अपना उम्मीदवा’र बनाया है।
Ravi Jyoti
वहीं नीतीश कुमार के बया’न पर रवि ज्योति ने भी पलटवा’र किया है। उन्होंने कहा है, “महागठबं’धन की लहर देखकर उनका मानसिक संतुलन बि’गड़ चुका है।” आपको बता दें कि राजगीर की विधानसभा सीट की यह ल’ड़ाई काफी रोमां’चक होने वाली है, क्योंकि सत्यदेव नारायण आर्य भाजपा के टिकट पर यहां से चुनाव जीतते आ रहे हैं। दूसरी ओर उनके विप’रीत बिहार पु’लिस के इंस्पे’क्टर और एनका’उंटर स्पेशलिस्ट रह चुके रवि ज्योति हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.