बिहार विधानसभा चुनाव जीतने के लिए भाजपा ने उड़ाए इतने करोड़, इतने का हिसाब तो…

May 26, 2021 by No Comments

बिहार में बीते साल हुए विधानसभा चुनाव को कई महीने बीत चुके हैं। लेकिन एक बार फिर से बिहार विधानसभा चुनाव चर्चा में आ चुके हैं। दरअसल इसकी बड़ी वजह विधानसभा चुनाव के दौरान राजनीतिक दल द्वारा किए गए खर्च का ब्यौरा है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी ने बिहार विधानसभा चुनाव में 74 सीटों पर जीत हासिल करने के लिए लगभग 72 करोड़ खर्च किए हैं। दरअसल चुनाव आयोग को दिए गए अपने खर्चे के बारे में भारतीय जनता पार्टी ने बताया है कि बिहार में बीते साल हुए विधानसभा चुनाव के दौरान पार्टी ने लगभग 72 करोड रुपए का खर्चा किया है।

दरअसल भाजपा का सबसे ज्यादा खर्चा पार्टी के स्टार प्रचारकों पर हुआ है। जिसमें भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जैसे स्टार प्रचारकों के प्लेन पर तकरीबन 24 करोड़ से अधिक का खर्च आया है। इसमें से 1.50 करोड़ प्रचारकों के ट्रैवल पर खर्च किए गए हैं। इसमें हेलीकॉप्टर और टैक्सी का खर्च शामिल है।

औसत आंकड़ों की बात करें कि अब तो भारतीय जनता पार्टी ने एक विधानसभा सीट पर चुनाव लड़ने में लगभग 96 लाख रुपये खर्च किए हैं। इतना ही नहीं बीजेपी ने अपने उम्मीदवारों को चुनाव लड़ने के लिए 16,50 करोड़ रुपये दिये थे। लगभग सभी उम्मीदवारों को बीजेपी ने 15-15 लाख रुपए चुनाव लड़ने के लिए दिए।

चुनाव आयोग को दिए गए खर्च के बारे में भारतीय जनता पार्टी ने यह भी बताया है कि बिहार विधानसभा चुनाव की शुरुआत के दौरान केंद्रीय और बिहार इकाई के पास तकरीबन 2367 रुपए का बैलेंस था जो चुनाव खत्म होने के बाद घटकर 2279 करोड़ों पर के आस पास आ गया। इस दौरान पार्टी के पास नकदी बढ़ गई और वह 2 करोड़ 79 लाख से बढ़कर 5 करोड़ 78 लाख हो गया।

भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव में अपने मीडिया मैनेजमेंट के लिए भी काफी बड़ी रकम खर्च की है। दरअसल भारतीय जनता पार्टी की तरफ से गूगल इंडिया को इस संदर्भ में लगभग डेढ़ करोड़ रुपए दिए गए थे। बिहार विधानसभा चुनाव वर्चुअल मोड में शुरू हुआ था लिहाजा सोशल और डिजिटल मीडिया पर इसके लिए बड़ी राशि खर्च की गई।

गौरतलब है कि बिहार विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और जनता दल यूनाइटेड ने मिलकर चुनाव लड़ा था। जिसमें भाजपा को काफी अच्छा रिस्पांस मिला है। भले ही राष्ट्रीय जनता दल सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी। लेकिन भारतीय जनता पार्टी का वोट बैंक जनता दल यूनाइटेड के मुकाबले ज्यादा बढ़ा है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *