चुनाव से पहले TMC से डरी भाजपा ? चुनाव आयोग से कहा- ममता बनर्जी को रोकें, वो हमारे

March 20, 2021 by No Comments

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के बीच सियासी पारा हर दिन और बढ़ता जा रहा है। दोनों राजनीतिक दलों में आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। इसी बीच भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव आयोग से तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खि’लाफ शि’कायत दर्ज करवाई है।

भाजपा ने चुनाव आयोग से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भाषणों पर रोक लगाने की मांग कर डाली है। दरअसल ममता बनर्जी पर गृह मंत्री अमित शाह समेत पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं के खि’लाफ भ्रा’मक त’थ्य ही’न और म’नग’ढ़ंत बातें करने का आ’रोप लगाते हुए भाजपा ने कहा है कि चुनाव आयोग का भी ममता बनर्जी द्वारा अ’पमान किया जा रहा है।

जिसके चलते उनके खि’लाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। भाजपा के वरिष्ठ नेता मुख्तार अब्बास नकवी, भूपेंद्र यादव और अनिल बलूनी की अगुआई में पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार को बंगाल के नंदीग्राम में हुई हिं’सा के लिए तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए कार्रवाई की मांग की है। भाजपा ने शिकायत के साथ हिं’सा में घा’यल का’र्यकर्ताओं के फोटो भी लगाए हैं।

आपको बता दें कि भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा पार्टी के वरिष्ठ नेताओं पर लगाए जा रहे झूठ है और मनगढ़ंत आरोपों के स’बूत भी पेश किए हैं। इसके तह तक उन्होंने 16 मार्च के चुनावी भाषण को भी स’बूत बनाया है।

भारतीय जनता पार्टी के मुताबिक, इस भाषण में ममता बनर्जी ने अमित शाह के खि’लाफ त’थ्य’हीन और अन’र्गल बातें कही थी। साथ ही चुनाव आयोग पर भी अमित शाह के इशारे पर काम करने का आ’रोप लगाया था।

इसके अलावा चुनाव आयोग को सौंपे एक दूसरे प्रतिवेदन में भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने तृणमूल कांग्रेस पर चुनाव के दौरान राज्य मशीनरी के दु’रूपयोग का आ’रोप लगाया है। साथ ही निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव सुनिश्चित करने के लिए सभी मतदान केंद्रों पर केंद्रीय बलों को तैनात करने और उन्हें मतदाताओं के पहचान पत्र की जांच करने का अतिरिक्त अधिकार देने की मांग की है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *