एक समय था जब गोविंदा को बॉलीवुड का हीरो नंबर 1 कहा जाता था और टाइटल उन्हीं पर फिट भी आता था, क्योंकि उनकी फ़िल्में सबसे ज्यादा पसंद की जाती थीं.उन्होंने जिस स्टायल में डांस किया है.आज लोग उसे कॉपी कर रहे हैं.इन्हें बॉलीवुड का डांस किंग भी कहा जाता था.उन्होंने बॉलीवुड में अपनी अलग ही छाप छोड़ी है.

लोग उन्हें कभी नहीं भूल पायेंगे.गोविंदा ने अपने दौर में हिंदी सिनेमा पर राज किया है,कहा जाता है कि अगर सब से ज्यादा सुपरहिट फ़िल्में किसी ने की हैं तो वह गोविंदा हैं. लेकिन वह कुछ सालों से फिल्म में नजर नहीं आ रहे हैं.

धीरे धीरे उन का कैरियर ख़राब होता चला गया.जब कि उनके साथ के लोग अभी भी फिल्मों में काम कर रहे हैं.आज हम आप को यहाँ पर उन्हीं गलतियों के बारे में बताएँगे जिन की वजह से गोविंदा फिल्मों से गायब हो गए हैं.

मशहूर होने का घमंड-मीडिया में कहा जाता है कि जब गोविंदा मशहूर हो गए और उनकी फ़िल्में हिट होने लगीं तो यह किसी को नजर में नहीं लाते थे,सेट पर देर से पहुँचते थे,वहीँ कहानी कुछ भी हो उस में अदाकारी अपने हिसाब से करते थे.

सलमान से दुश्मनी-सलमान खान और गोविंदा एक अच्छे दोस्त हुआ करते थे,लेकिन कुछ कारणों के की वजह से इन दोनों की दुश्मनी हो गई.वैसे तो पहले कई बार सलमान खान को गोविंदा की तारीफ़ करते हुए देखा गया है.लेकिन जब से सलमान से दुश्मनी हुई उसके बाद से इनके सितारे गर्दिश में हैं.


डेविड धवन से दुश्मनी
-गोविंदा को नंबर 1 बनाने वाले डेविड धवन ही हैं,इन दोनों की सभी फ़िल्में कामियाब हुई हैं, और इन में बहुत अच्छी दोस्ती भी थी, लेकिन कुछ सालों के बाद इन कि दोस्ती दुश्मनी में बदल गई, और आज यह हाल है कि यह दोनों एक दुसरे की शक्ल तक नहीं देखना चाहते हैं.

खुद में नहीं किया बदलाव-गोविंदा ने हमेशा अदाकारी एक हीरो के रूप में की है, उस में वह कभी बद्लाव नहीं चाहते थे, बढती उम्र के साथ ही वह हीरो के रूप में ही काम करना चाहते थे, यह भी उन की बड़ी गलती थी.

सियासत में एंट्री-फ़िल्मी दुनिया में सफलता के बाद वह राजनीती में भी आ गए थे,उन्हीने 2004 में लोकसभा का चुनाव भी लड़ा था,लेकिन वह आगे चल कर इस में भी फेल हो गए और इन्ह्ने राजनीति से किनारा कर लिया.