चिराग पासवान के एक दांव ने उड़ाई नीतीश कुमार की नींद, एनडीए के बागी नेता…

October 12, 2020 by No Comments

बिहार में होने वाले चुनावों से पहले राज्य की राजनीतिक पार्टियों के बीच उत्तल पुथल मची हुई है। हाल ही में राज्य की पार्टी ने ऐलान किया है कि वह इस बार एनडीए से अलग होकर अपने दम पर चुनाव लड़ेगी। हालांकि पार्टी द्वारा किए गए इस ऐलान के बाद ही लोजपा अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का नि’धन हो गया है।

जिसके बाद पार्टी अलग-थलग पड़ गई है। लेकिन चिराग पासवान की अगुवाई वाली पार्टी इस बार बिहार चुनाव में जीते लाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। बताया जा रहा है कि इस सिलसिले में लोजपा ने भाजपा से आ रहे बागी नेताओं को टिकट देना शुरू कर दिया है। आलम यह है कि अब भाजपा से टिकट न मिलने से नाराज चल रहे नौ और जदयू से बागी 2 नेताओं को लोजपा की तरफ से उम्मीदवार बनाया जा चुका है।

आपको बता दें कि लोजपा के संस्थापक रामविलास पासवान के नि’धन से बिहार में पार्टी के लिए लोगों की सहानुभूति बढ़ गई है और इस बार चिराग को चुनाव में सीटों की बढ़त बनाने का मौका भी मिल सकता है। माना जा रहा है कि लोजपा में किसी संभावना के साथ हर बागी नेता को टिकट दी जा रही है।

अब तक लोजपा ने बीजेपी से आये झाझा के विधायक राजेन्द्र सिंह, पूर्व विधायक रामेश्वर चौरसिया, ऊषा विद्यार्थी, महिला प्रकोष्ठ की उपाध्यक्ष इंदू कश्यप और पिछली बार बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ने वाली डॉ. मृणाल शेखर, पार्टी की महिला मोर्चा की प्रवक्ता रही श्वेता सिंह के अलावा राकेश कुमार सिंह और रानी कुमार को भी टिकट दिया है।

लोजपा ने सिर्फ बिहार चुनाव में लड़ रहे एनडीए गठबंधन से ही नहीं बल्कि राजद के भी एक पूर्व नेता को टिकट दिया है, राजद अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के पूर्व महासचिव सुरेश निषाद जो मोकामा से लोजपा के टिकट पर ता’ल ठो’कें’गे, हालांकि उन्हें लड़ाई से बाहर माना जा रहा है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *