CID के बंद होने के बाद कुछ ऐसी जिंदगी जीने को मजबूर है ACP प्रद्युमन से लेकर दया का है ऐसा हाल

दुनिया के सबसे लंबे चलने वाले टीवी सीरियल सीआईडी बंद हो चुका है। यह शो 23 साल पहले 1998 में शुरू हुआ था। जिसके बाद से लगातार 2018 तक चला। इस दौरान बच्चे, बूढ़े और जवान सभी ने देखा। शो को देखते हुए बच्चे जवान हो गए। यह शो लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स और गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज है।

23 सालों तक अपने दर्शकों का मनोरंजन करने वाले शो के प्रमुख किरदार एसीपी प्रद्युमन इस शो की जान थे। उनका कुछ तो गड़बड़ है दया वाला डायलोग आज भी लोग के जहन में बसा हुआ है। वहीं दया का दरवाजा तोड़ने वाला स्टाइल भी कोई आज नहीं भुला है।

जिसे अजय देवगन की फिल्म सिंघम के सिक्वेल में भी दोहराया गया है। आज हम इस शो की कास्ट और उनकी फीस के बारे में जानकारी देने जा रहे है।आईडी में एसीपी प्रद्युमन का किरदार निभाने वाले शिवाजी साटम को शो का एक अपिसोड करने की फीस 5 लाख रुपए मिलती थी।

शिवाजी साटम कई फिल्मों में काम कर चुके है। कई फिल्मों में उन्होने विलेन का किरदार भी निभाया है। जिनमे प्रमुख है – सूर्यवंशम, दाग दी फायर आदि।शो में कॉमेडी और ड्रामा करने वाले फ्रेडरिक का किरदार दिनेश फडनिस ने निभाया है।

जो एक एपिसोड का 70-80 हजार रुपए चार्ज करते थे। फड़नीस मराठी फिल्मों के बड़े अभिनेता है।शो के अहम किरदारों में से एक डॉ. सालुंखे यानि नरेंद्र गुप्ता एक एपिसोड का 40 हजार रुपए वसूल करते थे। यह भी बॉलीवुड की कई फिल्मों में काम कर चुके है।

शो में अभिजीत का किरदार निभाने वाले आदित्य श्रीवास्तव का एक एपिसोड करने का मेहनतना 80 हजार से एक लाख रुपए तक था। इन्होंने सत्या.पांच.और गुलाल जैसी फिल्मों में काम किया है।

वहीं दया का किरदार निभाने वाले दयानंद शेट्टी एक एपिसोड का 1 लाख रुपए चार्ज करते थे। मैसूर से ताल्लुक रखने वाले दयानंद को आप ने कुछ बॉलीवुड मूवी में देखा होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.