CM को अरेस्ट करने वाली लेडी सिंघम से कँगना रानौत ने लिया पँगा, अब कह रही हैं..

November 19, 2020 by No Comments

इस साल अगर कोई बार-बार विवादों में आया है तो उसमें कँगना रानौत का नाम भी आता है. पिछले कुछ महीनों में फ़िल्मों में काम न होने की वजह से कँगना सोशल मीडिया पर कुछ ज़्यादा ही एक्टिव रहीं. एक्टिविटी कुछ इतनी रही कि कब किससे भिड़ जाएँ कुछ पता ही नहीं. अब जो मामला है वो एक आईपीएस अफ़सर डी रूपा मोदगिल का है. दीवाली के दौरान आतिशबाजी पर दिये गए बयान को लेकर एक्ट्रेस कंगना रनौत ने उनपर निशाना साधा है और कहा, ‘ऐसे अफसर पुलिस विभाग पर धब्बे की तरह हैं’.

कँगना उनके बयान से इतना नाराज़ हो गईं कि उन्हें सस्पेंड करने की ही माँग कर डाली. मुंबई की तुलना पीओके से करने वाली कँगना खैर कुछ भी बोल सकती हैं. दरअसल, डी रूपा ने अपनी एक पोस्ट में कहा था कि पटाखे भारतीय परंपरा का हिस्सा नहीं हैं और किसी भी ग्रंथ आदि में इसका ज़िक्र नहीं मिलता है. डी रूपा के इस बयान पर उनके और ट्विटर के एक चर्चित हैंडल ‘ट्रू इंडोलॉजी’ के बीच तीखी नोकझोंक भी देखने को मिली। इसी बीच ट्विटर ने ‘ट्रू इंडोलॉजी’ का हैंडल भी सस्पेंड कर दिया।

आपको बता दें कि डी रूपा कर्नाटक कैडर की साल 2000 बैच की आईपीएस अधिकारी हैं। वे ‘लेडी सिंघम’ भी कही जाती हैं। शुरू से ही पढ़ाई में अव्वल रूपा का बचपन कर्नाटक के दावनगेरे शहर में बीता है। उनका परिवार चाहता था कि वे पुलिस सेवा में जाएं। रूपा ने भी परिवार के सपने को पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। उन्होंने सन 2004 में उमा भारती को गिरफ्तार कर लिया था. उमा भारती तब मध्य प्रदेश की मुख्यमंत्री थीं. यह गिरफ्तारी 1994 के हुबली दंगा मामले में कोर्ट के आदेश के बाद की गई थी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *