उत्तर प्रदेश विधानसभा में चर्चा के दौरान प्रदेश के उपमुख्यमंत्री और भाजपा नेता केशव प्रसाद मौर्या ने कुछ ऐसा कह दिया जो सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को नागवार गुज़रा. असल में केशव प्रसाद मौर्या अखिलेश यादव के एक सवाल के जवाब में बोल रहे थे. मौर्या ने बातों बातों में कह दिया कि अखिलेश यादव कहते हैं कि सड़क किसने बनाई है, एक्सप्रेस किसने बनाया है, मेट्रो किसने बनाया है जैसे लगता है आपने सैफ़ई की ज़मीन बेचकर के ये सब बनवा दिया है.

अखिलेश ने इस बात पर तुरंत पलटवार किया और पूछा कि तुम अपने पिता जी से पैसा लेकर आते हो, राशन बांटा तो क्या पिता जी से पैसे लाते हो? अखिलेश यादव के पलटवार करते ही सपा के बाक़ी सदस्य भी इस बात पर नारेबाज़ी करने लगे. असल में अखिलेश यादव ने विधानसभा में बोलते हुए केशव प्रसाद मौर्या पर निशाना साधा.

उन्होंने कहा कि यह पीडब्ल्यूडी मंत्री रहे हैं। ये भूल गए कि उनके जिला मुख्यालय की सड़क किसने बनाई? बताएं फोन लेन किसने बनाई। केशव ने जवाब दिया, ”अध्यक्ष जी कृप्या इन्हें बता दीजिए कि पांच साल सत्ता में नहीं रहे, फिर पांच साल के लिए फिर विदा हो गए हैं। 2027 में चुनाव आएगा फिर कमल खिलेगा। सड़क किसने बनाई है, एक्सप्रेस वे किसने बनाई है, मेट्रो किसने बनाई है, ऐसा लगता है कि आपने सैफई की जमीन बेचकर आपने यह सब बना दिया है।”

यह सुनते ही अखिलेश यादव खड़े हो गए और तुरंत बोले, ”तुम पिता जी से पैसा लाते हो यह बनाने के लिए। राशन बांटा है तो पिताजी से पैसा लाए हो।” अखिलेश के इतना कहते ही सपा-भाजपा सदस्यों में जमकर नारेबाज़ी हुई.