कमलेश तिवारी म’र्ड’र केस के बाद CM योगी ने भारत-नेपाल बॉर्डर के लिए उठाया ये कद’म, सपा ने भी..

October 23, 2019 by No Comments

उत्तर प्रदेश में इस वक्त भारतीय जनता पार्टी और विपक्षी दलों में कमलेश तिवारी ह’त्याकां’ड को लेकर आ’रोप-प्र’त्या’रोप का सिलसिला चल रहा है। इसी बीच यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ा फैस’ला लिया है। बताया जा रहा है कि 3 विभागों के साथ बैठक करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घोषणा की है कि भारत नेपाल बॉर्डर इलाके में ऑल वेदर रोड बनाया जाएगा।

इस रोड के बनने से सभी चौ’कियां आपस में जुड़ जाएंगी। जिससे बॉर्डर के निग’रानी रखना और भी आसान हो जाएगा। गौरतलब है कि भारत नेपाल का खुला बॉर्डर हमेशा से ही सं’दि’ग्ध और त’स्क’रों के निशाने पर रहता है। बताया जाता है कि कमलेश तिवारी ह’त्या’कांड में आरोपी के भी नेपाल भागने की सूचना मिली थी।

जिसके चलते सीएम योगी ने आरोपियों की ऐसी ग’तिविधि’यों को रोकने के लिए यह बड़ा फै’स’ला लिया है। इस संदर्भ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि देश वि’रो’धी ता’क’तों से जुड़े लोग भारत नेपाल की खुली सीमा का दु’रुपयो’ग करते आए हैं और कर रहे हैं। वेदर रोड बनने से हमारी सुरक्षा चौ’कि’यां एक दूसरे से जुड़ जाएंगी।

इससे सं’दि’ग्ध तत्वों पर नि’गरा’नी करना आसान हो जाएगा। वहीं वन माफिया व वन्य जीवों को नुकसान पहुंचाने वाले तत्वों से सख्ती के साथ नि’पटा जा सकेगा। खबर के मुताबिक, उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि बार्डर रोड बनाने में हमें वाइ’ल्ड लाइ’फ और वृक्षों का विशेष ध्यान रखना होगा, जिससे उन्हें कोई नुकसान न पहुंचे।

बताया जा रहा है कि भारत नेपाल बॉर्डर की निगरानी को और ज्यादा बेहतर बनाने के लिए बुलाई गई बैठक में लोक निर्माण विभाग वन विभाग के अधिकारी भी मौजूद थे वही बॉर्डर की सुरक्षा में लगी एसएसबी के अधिकारी भी इस बैठक में योगी आदित्यनाथ से विचार विमर्श करते हुए नजर आए।

इस मौके पर सीएम योगी ने एसएसबी सहित दोनों विभागों से जल्द से जल्द स’र्वे कर रि’पो’र्ट देने की बात कही है। बॉर्डर से सटे जंगलों और मैदानी इलाके का स’र्वे किया जाना है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *