भाजपा की जोड़-तोड़ के बीच कांग्रेस दे सकती है शिव सेना को समर्थन, आदित्य ठाकरे बनेंगे…

October 28, 2019 by No Comments

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे सामने आने के बाद भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना अभी तक राज्य में सरकार बनाने से जुड़े फैसलों में सहमति नहीं बना पा रही है। बताया जा रहा है कि शिवसेना की तरफ से भारतीय जनता पार्टी के समक्ष यह मांग रखी गई है कि इस बार राज्य का मुख्यमंत्री उनकी पार्टी से ही होना चाहिए।

जिसके बाद एक बार फिर दोनों पार्टियों में अनबन होती नजर आ रही है। इसी बीच यह खबर सामने आ रही है कि शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार को कांग्रेस ने समर्थन देने के संकेत दिए हैं। एनसीपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री छगन भुजबल और कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद जी द्वारा इस तरह का प्रस्ताव शिवसेना के समक्ष रखा गया है।

इस मामले में राज्य कांग्रेस के अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने मीडिया बातचीत के दौरान कहा है कि हम से इस पर अब तक शिवसेना से कोई बातचीत नहीं हुई है। अगर ऐसा होता है तो हम इस मामले पर फैसले के लिए पार्टी आलाकमान के समक्ष रखेंगे.” कांग्रेस, एनसीपी और इसके दूसरे सहयोगियों ने 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा में 117 सीट हासिल किया है।

गौरतलब है कि भाजपा-शिवसेना ने संयुक्त रूप से 161 सीटें हासिल की हैं।मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने स्पष्ट तौर पर इस तरह की अटकलों को खारिज कर दिया है और कहा है कि अगली सरकार भाजपा और उनके सहयोगी दल ने मिलकर बनाएंगे। आपको बता दें कि हरियाणा में त्रिशंकु विधानसभा बनने के बावजूद राज्य में सरकार बन चुकी है।

बतौर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण कर ली है। जेजेपी के दुष्यंत चौटाला डिप्टी सीएम बनाए जा चुके हैं लेकिन महाराष्ट्र में अभी तक बीजेपी और शिवसेना यह तय नहीं कर पा रही है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन बनेगा।

माना जा रहा है कि इस मामले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से बैठक कर सकते हैं और इस समस्या का समाधान करें राज्य में सरकार बनाने से जुड़ा बड़ा फैसला लेंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *