इन राज्यों में भाजपा के लिए बजी ख’तरे की घंटी, विधानसभा चुनाव ने कांग्रेस की जीत मानी जा रही तय!

November 4, 2021 by No Comments

हाल ही में भारत के कई राज्यों में चुनाव हुए हैं। इन उपचुनाव को विधानसभा चुनाव से पहले ही सेमीफाइनल की तरह देखा जा रहा था। हाल ही में हुए उपचुनाव के नतीजे सत्तारूढ़ दल भारतीय जनता पार्टी के लिए अच्छे साबित नहीं हुए हैं।

कुछ राज्यों को छोड़ दिया जाए तो भाजपा का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा है। खासतौर पर हिमाचल प्रदेश में जहां पर इस वक्त भाजपा सत्ता में है। गौरतलब है कि कुछ महीनों बाद के राज्य विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। जिसे लेकर सभी राजनीतिक दल तैयारियों में जुटे हुए हैं। इसमें उत्तर प्रदेश उत्तराखंड पंजाब के विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं।

 

भारतीय जनता पार्टी बीते 7 सालों से केंद्र की सत्ता में काबिज है। जिन राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। उनमें से उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भी भारतीय जनता पार्टी सत्ताधारी पार्टी है। केंद्र और सूबे दोनों जगह एक ही दल की सरकार होने से ऐसा माना जाता है कि सत्ताधारी पार्टी को चुनाव में फायदा मिलेगा। लेकिन हिमाचल प्रदेश में हुए उपचुनाव के नतीजे इसके बिल्कुल उल्ट रहे हैं।

सूबे की तीनों विधानसभा सीटों पर जनादेश कांग्रेस पार्टी के पक्ष में रहा है। इतना ही नहीं लोकसभा क्षेत्र मंडी में भी कांग्रेस को जीत मिली है। यह जीत और भी विशेष इसलिए क्योंकि मंडी सूबे के के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का गृह जिला है।

वहीं जुबल-कोटखाई सीट पर तो बीजेपी को और भी करारी हाल झेलनी पड़ी है। यहां भाजपा उम्मीदवार नीलम सेराइक अपनी जमानत भी नहीं बचा पाई। उन्हें महज 2,644 वोट मिले। सेराइक को पार्टी के बागी के हाथों हार का सामना करना पड़ा। वहीं फतेहपुर और अर्की सीटें को कांग्रेस बचाने में सफल रही है।

वहीं सूबे में पार्टी की करारी शिकस्त पर सीएम जयराम ठाकुर ने विपक्ष द्वारा महंगाई के मुद्दे को जोरशोर से उठाने को जिम्मेदार ठहराया है। ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस ने महंगाई को हथि’यार बनाया। जो उपचुनाव में एक मुद्दा बना। लेकिन महंगाई एक वैश्विक मुद्दा है। इन सब से हमारा नुकसान हुआ. हम आत्मावलोकन करेंगे।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *