10 साल बा’द यहाँ कांग्रे स को मि’ली ब’ड़ी जी’त, भाजपा को मि’लीं ब’स इत’नी सी’टें..

August 31, 2019 by No Comments

बमियाल: पिछले कुछ सालों में कां ग्रेस कार्यक’र्त्ता इस उम्मी’द में रहते हैं कि कहीं से कोई अ’च्छी ख़’बर आये. जानकार मानते हैं कि ये दौर कांग्रे स के सबसे ख़रा’ब दौर में से एक है. परन्तु इस बीच कांग्रे स के लिए एक अ’च्छी ख़ब’र आ रही है बमियाल से. दस साल से लगा’तार बन’वास झे’ल रही कां ग्रेस को यहाँ ब ड़ी काम’याबी हासिल हुई है.

दस साल के वनवास के बाद पंचायत समिति नरोट जैमल सिंह और पंचायत समिति बमियाल में कां ग्रेस की वा’पसी हुई है। कांग्रे स ने चेयरमैन और वॉइस चेयरमैन पद की कुर्सी पर क़’ब्ज़ा करके अपने इ’रादे जता दिए हैं.आपको बता दें कि लम्बे समय से भाजपा यहाँ क़’ब्ज़ा ज’माये बै’ठी थी परन्तु अब उसकी हा’र हो गई है. कां ग्रेस लगातार कोशि’श कर रही थी कि वो किसी तरह जी’त हा’सिल करे और आ’ख़िर कांग्रे स को जी त न’सीब हो गई है.

यहाँ 10 सालों से अकाली-भाजपा का क़’ब्ज़ा था. इसकी वजह ये थी कि 10 साल से यहाँ भाजपा-अकाली की सरकार थी. परन्तु 2017 में पंजाब विधानसभा चुनाव में कां ग्रेस की ब’ड़ी जी’त के बाद कार्यकर्ताओं में भा’री उ’त्साह आ गया. इस चुनाव में कांग्रे स ने क’ड़ी मे’हनत की थी. हालाँकि मेहन’त तो भाजपा की ओर से भी की गई थी. परन्तु भाजपा की कोशिश यहाँ बे’कार ही गई.

आपको बता दें कि पहले यहाँ समिति चुनाव में कांग्रे स और भाजपा बराबरी पर रही थी।र भाजपा और कां ग्रेस ने 7- 7 सीटों पर कब्जा किया था, जबकि एक सीट निर्दलीय के खाते में गई थी। उस समय कांग्रे स के ब्लाक समिति सदस्य एकजुट नहीं हो पाए थे, इस कारण भाजपा ने इस पर कब्जा किया था। इस बार कांग्रेस ने जिस तरह से कैम्पेन और कूटनीति की उससे पार्टी 7 से 12 पर पहुँच गई है जबकि बमियाल में 6 सीटों से बढ़कर 9 संख्या बनी. ऐसा दस साल के बाद हुआ है कि कां ग्रेस के चेयरमैन और वाइस चेयरमैन बने हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *