कोरोना वाय’रस की इस महामा’री के दौरान पु’लिस कर्मियों और डॉक्टरों ने लोगों का बहुत साथ दिया। रोज़ाना डॉक्टर्स और पुलिस कर्मियों की सेवाओं के अल’ग- अल’ग कि’स्से साम’ने आ रहे है। ऐसे में एक कि’स्सा दिल्ली से भी सा’मने आया है जिसमें एक महिला ने डिलि’वरी के बाद अपने बच्चे को एक कां’स्टेबल का नाम दिया। ऐसा महिला ने इसलिए किया क्योंकि इस लॉ’क डा’उन के बीच उस कांस्टेबल ने ही महिला को अस्प’ताल पहुंचाया था। बता दें कि कांस्टेबल दयावीर सिंह ने इस बात को सुनते हुए कहा “मुझे खुशी है कि मैं उस समय में उनकी मदद कर सका। मैं सम्मानित महसूस कर रहा हूं।”

बता दें कि इस लॉ’क डा’उन के च’लते दिल्ली पु’लिस के साथ- साथ देश भर की पु’लिस के काफी इंसा’नियत भरे मा’मले साम’ने आ रहे है। जिसमें गर्भ’वती महिला को अस्पताल पहुंचाने के साथ साथ पु’लिस जीप में ही डिलीवरी करवाने जैसे मा’मले शामिल है। हालांकि कोरोना वाय’रस की इस ल’ड़ाई में बहुत से पु’लिस कर्मी भी इस वाय’रस की चपे’ट में आ चुके है। साथ ही बहुत से पु’लिस कर्मियों को क्‍वारंटा’इन किया जा चुका है लेकिन फिर भी पु’लिस कर्मी अपनी ड्यूटी से पीछे नहीं ह’ट रहे बल्कि निड’र होकर इस वाय’रस से ल’ड़ रहे है।

The Baby
खबरों के मुता’बिक बताया जा रहा है कि गुरुवार को भारत की राजधानी दिल्ली में कोरोना के 128 नए माम’ले सा’मने आए है। और इस दौ’रान 2 की मौ’त भी हो चुकी है। दिल्ली में 2 और नए कंटे’नमेंट ज़ो’न की पहचान हुई है जिसके चलते कंटे’नमेंट ज़ोनो की संख्या बढ़कर 92 हो गई है। बता दें दिल्ली में अब तक कोरोना वाय’रस के 2376 मा;मले सामने आ चुके है जिसमें से अब तक 808 लोगों का उपचा’र कर उनको उनके घर भेज दिया गया है वहीं दिल्ली में इसमें अब भी 1518 मामले स’क्रिय हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.