कोरो’ना वाय’रस वैश्विक महामा’री ने दुनिया के ज़्यादा तर देशों को अपनी चपे’ट में ले लिया है और पूरी दुनिया कोरो’ना संक्र’मण से ल’ड़ने में लगी हुई है इसी के चलते विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization- WHO) ने यह चेता’वनी जारी की है कि एशिया, दक्षिण अमेरिका और मिडिल ईस्ट के देशों में कोरो’ना संक्रम’ण का कहर अभी जारी रहेगा। विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization- WHO) ने जो चेता’वनी दी है उसमें यह भी कहा गया है कि अभी बीते दो सप्ताह में कोरो’ना संक्रम’ण के रोज़ाना एक लाख से ज़्यादा केस सामने आए और कहा कि हो सकता है कि ये सिलसिला अगले 15 दिनों तक जारी रहे। विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization- WHO) ने चीन को भी अलर्ट किया और कहा कि बीजिंग में नए केस एक गंभी’र मामला है और इससे चीन को जल्द ही नि’पटना होगा।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization- WHO) के चीफ टेडरॉस एडहॉम का कहना है कि एक बार फिर चीन में 50 दिनों के बाद माहौल ख’राब होता हुआ नज़र आ रहा है और उनका कहना है कि चीन के बीजिंग में पाया गया क्लस्टर बहुत खतरनाक साबित हो सकता है और कहा कि चीन को इस मसले पर बहुत जल्द ही क़ा’बू पाना होगा। विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization- WHO) का कहना है कि अभी चीन ने इस मामले को काफी अच्छे से संभाला हुआ है लेकिन इस मामले में चीन को और भी सतर्कता की ज़रुरत है इस मसले पर ढील न डाली जाए। WHO के इमरजेंसी चीफ डॉक्टर माइकल रेयान का कहना है कि संयुक्त राष्ट्र हेल्थ एजेंसी चीन से लगातार संपर्क बनाई हुई है और संक्रम’ण के मामलों पर नज़र बनाये हुई है और कहा जा रहा है कि अगर चीन को किसी भी तरह की मदद की ज़रूरत पड़ी तो उसके लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization- WHO) की टीम भी चीन भेजी जा सकती है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization- WHO) के टेडरॉस का कहना ये है कि दुनिया मे कोरो’ना संक्रम’ण के जितने भी केस आ रहे हैं उनमें से 80 प्रतीशत से ज़्यादा केस सिर्फ 10 देशों से आ रहे हैं और बताया जा रहा है कि दुनिया में सबसे ज़्यादा कोरो’ना संक्रम’ण के केस ब्राजील, अमेरिका, भारत, रूस, पेरू, चिली, पाकिस्तान और सऊदी अरब से सामने आ रहे हैं। टेडरॉस का कहना है कि कोरो’ना संक्रम’ण ने साउथ एशिया के देशों में तेज़ी से गति पकड़ी है और ये बहुत खतरना’क हो सकता है और ये चिं’ता का वशय बना हुआ है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization- WHO) का कहना है कि अफ्रीका में भी माहमा’री ने गति पकड़ ली है और बताया जा रहा है कि महाद्वीप में भी कोरो’ना संक्रम’ण के मामले एक लाख तक पहुंचने में तकरीबन 98 दिन लग गए और बताया ये जा रहा है कि यही संख्या को दो लाख पहुंचने में सिर्फ 18 दिन ही लगे। डब्ल्यूएचओ अफ्रीका के प्रमुख माशिदिसो मोइती ने कहा कि, “अफ्रीका के 54 देशों में से आधे से अधिक में सामुदायिक संचरण शुरू हो गया है और यह काफी गंभीर है।”

बता दें कि यह वाय’रस महाद्वीप में मुख्यत: यूरोप से आया और अब ये वाय’रस शहरी इलाकों और व्यावसायिक केंद्रों से और ग्रामीण क्षेत्रों को भी अपने संक्र’मण की च’पेट में ले रहा है और इस मामले पर मोइती ने कहा, “मुझे आशं’का है कि जब तक प्रभावी टीका नहीं मिल जाता है, हमें संभवत: इसके साथ जीना पड़ेगा।” अफ्रीका में कोरो’ना वाय’रस संक्रम’ण अभि तक तकरीबन 54 हज़ार से ज़्यादा लोगो को संक्रमि’त कर चुका है और कोरो’ना संक्रम’ण की वजह से तकरीबन 6700 लोग अपनी जा’न गवा चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.