देश भर में अभी सबसे बड़ी चिं’ता का विषय बना हुआ है कोरोना संक्र’मण। 21 दिन का लॉक डा’उन करने के बाद भी कोरोना के मा’मले थ’मने का नाम ही नहीं ले रहे थे। अलग-अलग तरह से हुई ग़’लतियों ने सोशल डेस्टें’सिंग की ध’ज़्ज़ियाँ उ’ड़ा दिन और माम’ले लगाता’र फै’लते ही जा रहे थे। आख़िर कुछ स’ख़्त निय’म लगाए गए और लॉ’क डा’उन को भी 3 मई तक आगे ब’ढ़ाया गया। हालाँकि आज से कुछ जगहों पर ढी’ल भी दी गयी है और ट्रान्सपोर्ट, IT सेक्टर जैसी जगहों को खो’लने के आ’देश भी जा’री हुए हैं बस उन्हें ज़रूरी निर्दे’शों का ध्यान रखना होगा।

इसी बीच एक राह’त भ’री ख़’बर आयी है कि कोरोना के मरी’ज़ों की संख्या ब’ढ़ने की द’र में भी क’मी आयी है। जहाँ पिछले दिनों 3.4 दिनों में मामले दुगु’ने हो रहे थे वहीं अब ये आँक’ड़ा 7.5 दिनों का हो गया जो एक बड़ा बद’लाव है और राह’त की बात है। इस तरह अगर देश भर में ज़रूरी निर्दे’शों को माना जाए तो ये आँक’ड़ा जल्द ही और भी सुधर सकता है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस बात की जा’नकारी दी है। साथ ही वहाँ से आए आँक’ड़े भी इस बात की पु’ष्टि करते हैं।

Coronavirus Testing

ताज़ा आँक’ड़ों एक अनुसार भारत में कोरोना संक्र’मितों की संख्या 17656 हो गई है। जहाँ पिछले 24 घंटों में आए नए माम’ले 1540 हैं और मौ’त का आँक’ड़ा 40 है। वहीं कुल संख्या की ओर देखा जाए तो अब तक कोरोना ने देश के 559 लोगों की जा’न ले ली है जबकि 2842 लोग ऐसे रहे हैं जिन्होंने इस वाय’रस को मा’त दे दी और अब स्वस्थ हो चुके हैं। वैसे कहा जा रहा था कि एक बार ठीक होने के बाद भी उन व्यक्तियों के शरीर में वाय’रस कुछ दिनों तक जी’वित रहता है जिसके चलते ठीक होने के बाद भी लोगों को कुछ दिन अल’ग ही रहने की सला’ह दी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.