भारत में कोरो’ना वाय’रस के संक्र’मण को देखते हुए खास कर के झारखंड में कोरो’ना वा’यरस की बढ़ती तादाद को देखते हुए अब 18 जून से पुरे भारत में मेगा स्वास्थ्य सर्वेक्षण (Health survey)  मुहीम चलाया जयेगा जिसके मुताबिक सरकार की तरफ से जो स्वास्थ्य कार्यकर्ता है वो घर -घर जाकर लोगों का चैक – अप (check up) करेंगे और उनकी बीमा’रियों का भी एक डेटा तैयार किया जयेगा जिससे ये पता चल सके कि किन किन को कोरो’ना वाय’रस होने का ज़्यादा खतरा है। क्योंकि झारखंड(jharkhand) में पहले ही कोरो’ना वाय’रस के पॉजिटिव(positive) 1700 से ज़्यादा केस सामने आचुके है। वही स्वास्थ्य विभाग वालो का कहना है कि अगर ये ऐसे ही बढ़ते रहे तो 15 दिन के अंदर ही अंदर 5000 से ज्यादा लोग कोरो’ना वाय’रस से संक्रमि’त हो जाएंगे।

इन्ही सभ बातों को देखते हुए 18 जून से देश भर में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा मेगा सर्वेक्षण(health survey) मुहीम चलाने का फैसला लिया है जिसके मुताबिक सहायिका, सेविका और उनके साथ साथ नर्सें भी घर -घर जयेंगी और लोगों की सक्रीनिंग कर के उनका डेटा तैयार करेंगी जिससे इस कोरो’ना वायर’स के बढ़ते मामलो पर रोक लगाई जा सके। पता चला है स्वास्थ्य सचिव डॉ नितिन मदन कुलकर्णी ने  झारखंड(jharkhand) में बढ़ते मामलों को देखते हुए कल बहुत ही चिंता बढ़हाने वाली बात सामने रखी उन्होंने कहा अगर कोरो’ना वाय’रस के पॉजिटिव केस ऐसे ही निकलते रहे तो ये काफी चिं’ता की बात होगी क्योंकि इसके मुताबिक अगले 15 दिन में कोरो’ना पॉजिटिव की संख्या 5050 तक पहूँच जएगी और अगर स्वास्थ विभाग का अंदेशा सही रहा तो ये अब तक कि 15 दिनों में होने वाली सबसे बढ़ी बढ़ोतरी मानी जएगी।

सोमवार में कोरो’ना को लेकर प्रोजेक्ट भवन सभागार में स्वास्थ्य विभाग, आपदा विभाग और परिवहन विभाग के द्वारा की गई संयुक्त पीसी में आपदा सचिव अमिताभ कौशल ने कहा था कि लॉ’क डा’उन के दौरान अब तक प्रदेश में 6 लाख 89 हजार 874 प्रवासी वापस लौटे है। बता दें कि राज्य में 238 श्रमिक ट्रेन से 3 लाख 10 हज़ार 340 श्रमिक लौटे, वहीं बस से 01 लाख 852 श्रमिक आए हैं। वहीं हवाई जहाज से लौटने वाले प्रवासियों की संख्या 1165 है। कोरो’ना मूवमेंट के नोडल अधिकारी एपी सिंह का कहना है कि विदेश से अब तक 390 प्रवासी प्रदेश पहुंचे है। 16 जून को भूटान से 17 श्रमिक प्रदेश लौटेंगे तो वहीं 17 जून को बांग्लादेश से 76 श्रमिक राज्य लौटेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.