चीन के शहर बुहान से पैदा हुआ कोरो’ना वाय’रस अब सारी दुनिया में फैल चुका है और इसका क’हर अब रुकने का नाम नहीं ले रहा। इसने दुनिया में लगभग सभी देशों को अपने चपे’ट में ले लिया है। इस वाय’रस की वैक्सीन को बनाने के लिए दुनिया भर के साइंटिस्ट लगे हुए है लेकिन अभी तक किसी को सफलता नहीं मिली। ऐसे में खबर है कि अब भारत में एक कंपनी द्वारा बनाई गई कोरो’ना वैक्सीन के इंसानों पर टेस्ट करने की अनुमति मिल गई है। भारत बायोटेक द्वारा विकसित की जा रही भारत की पहली COVID-19 वैक्सीन – COVAXIN ™, के मानव क्लीनिकल परीक्षण के पहले और दूसरे चरण के लिए डीजीसीआई (DGCI) की अनुमति मिल गई है। बता दें कि भारत में ये पहली वैक्सीन है जिसको इंसानों पर टेस्ट किया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक ये परीक्षण जुलाई 2020 में शुरू हो जाएगा।

खबर के अनुसार भारत में कोरो’ना वाय’रस की वैक्सीन बनाने वाली ये कंपनी भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) के मदद से इस टीके को तैयार करने में लगी हुई है। SARS-CoV-2 तनाव को NIV, पुणे में अलग कर दिया गया और भारत बायोटेक में स्थानांतरित कर दिया गया। भारत बायोटेक द्वारा स्वदेशी, निष्क्रिय टीका विकसित और निर्मित किया जा रहा है।

बता दें कि पूरी दुनिया में अब तक कोरो’ना वाय’रस के एक करोड़ से ज़्यादा मामले सामने आचुके है। जिसकी वजह से सभी लोग परे’शान है। बताया जा रहा है कि इस वाय’रस से दुनिया भर में 5 लाख से ज़्यादा मौ’तें भी हो चुकी है। भारत दुनिया में सबसे ज्यादा प्रभावित देशों की लिस्ट में 4 स्थान पर है। यहां कोरो’ना वाय’रस के लगभग 5 लाख मामलों की पुष्टि हो चुकी है और साथ ही अब तक 16 हजार से ज़्यादा लोग इससे अपनी जान भी गवां चुके है। वहीं अब तक 3 लाख से ज़्यादा लोग इससे ल’ड़कर इसको मा’त देने में सफल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.