NRC और CAA के विरो’ध में देश भर में प्रद’र्शन हो रहे हैं। विद्यार्थी, आम जनता और नेताओं ने ही नहीं बल्कि बॉलीवुड से सम्बंधित कुछ लोगों ने भी इस मा’मले में अपनी- अपनी तरह से मो’र्चा खोला है। जहाँ कुछ ने ट्विटर, FB जैसे सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म का सहा’रा लिया है तो ढेर सारे लोग स’ड़कों पर निकलकर अपना विरो’ध ज़ा’हिर कर रहे हैं। इस विरो’ध प्रद’र्शन को शांतिपूर्ण ही रखा जा रहा है लेकिन कहीं न कहीं से असा’माजिक त’त्व आकर हिं’सा ब’ढ़ाने की कोशि’शें भी कर रहे हैं।

हाल ही में दिल्ली के दरि’यागंज इला’क़े में विरो’ध के दौ’रान अचा’नक हिं’सा हुई और बाह’र ख’ड़ी एक गाड़ी में आ’ग लगा दी गयी जिसके कार’ण इस माम’ले में क’थित रूप से पुलि’स ने ला’ठीचा’र्ज और वाट’र कै’नन का इस्तेमाल किया। ये प्रद’र्शन डीसीपी द’फ्तर के बाह’र हो रहा था। इस मा’मले में दिल्ली पु’लिस ने 40 लोगों को गिर’फ्तार किया जिनमें 8 नाबा’लिग शामिल थे। इन नाबा’लिगों को भी पुलि’स ने था’ने में रखा।


इस माम’ले में नाबा’लिगों को पुलि’स हिरा’सत में रखने पर अदाल’त ने दिल्ली पुलि’स को फट’कार लगाते हुए कहा कि “नाबा’लिगों को था’ने में रखना सरा’सर क़ा’नून का उल्लं’घन है” साथ ही अदाल’त ने पुलिस की भूमि’का पर भी सवाल उठाया लेकिन दिल्ली पुलि’स के अधि’कारियों ने कहा कि उन्होंने भी’ड़ को पी’छे ह’टाने के लिए हल्के ब’ल और वॉटर कैन’न का ही प्रयोग किया ला’ठीचा’र्ज नहीं किया।

अदाल’त ने दिल्ली पुलि’स को ये निर्दे’श भी दिए कि हिरा’सत में लिए लोगों को उनके वकी’लों से मिलने दिया जाए और उन्हें ज़रू’री सहायता दी जाए। दिल्ली पुलि’स हिरा’सत में लिए लोगों को उनके वकी’लों से मिलने की इजा’ज़त नहीं दे रही, ये बात हिरा’सत में मौजू’द लोगों के वकी’लों ने चीफ़ मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट से उनके घर पर मिलकर बतायी थी। अदाल’त ने कहा कि सभी को उनके वकी’लों से मिलने दिया जाए और जो घाय’ल हो गए हैं उनका इला’ज भी करवाया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.