देश के आम नागरिकों के साथ हज करने पहुँचे अफ़्रीकी देश के राष्ट्रपति ने त्याग दिया…

July 5, 2022 by No Comments

रियाद: इस्लाम के पाँच स्तम्भ में से एक है हज. हज हर उस मुसलमान पर फ़र्ज़ है जो हज की यात्रा करने में सक्षम है. ऐसा मुसलमान जिसके पास सेहत और धन दोनों है, उसे हज करना ज़रूरी है. हर साल सऊदी अरब में पवित्र हज की यात्रा करने के लिए दुनिया भर से मुसलमान जाते हैं. कोरोना काल के बाद पहली बार सऊदी अरब ने लगभग 10 लाख लोगो को हज मे शामिल होने की इजाज़त दी है.

हज यात्रा के दौरान अलग अलग मुल्को से सरकारी अधिकारी और राष्ट्र नेता भी यहां पहुँचते है,हज मे शामिल होने वाले राष्ट्रीय नेताओ को सऊदी सरकार की तरफ से राष्ट्रीय अतिथि का दर्जा भी दिया जाता है जिसके लिये अलग प्रोटोकोल है। इसी बीच सोशल मीडिया पर अफ्रीकी देश आइवरी कोस्ट के राष्ट्रपति अलसेन औट्टारा की तस्वीर वायरल हो रही है.

वो मस्जिद ए हराम के पास अपने देशवासियो और दूसरे हजयात्रियो के बीच एक फुटपाथ पर आराम करते दिखाई दे रहे है,मिली जानकारी के अनुसार राष्ट्रपति ने अपनी हज यात्रा मे सरकारी धन और संसाधनो का इस्तेमाल नही किया है। राष्ट्रपति अलसेन औट्टारा आम हज यात्रियो की तरह बिना किसी प्रोटोकोल के आम यात्रियो के साथ एक आम जहाज़ से सऊदी पहुंचे है.

उन्होने सऊदी सरकार की तरफ से राष्ट्र अध्यक्षो को मिलने वाले प्रोटोकोल को न सिर्फ लेने से इन्कार कर दिया है बल्कि शाही खानदान की तरफ से ठहरने के लिये मिलने वाले शाही गेस्ट हाउस मे भी रुकने से मना कर दिया है. राष्ट्रपति अलसेन औट्टारा ने अपनी हज यात्रा की शुरुआत करते हुवे संदेश दिया कि बादशाहो के बादशाह की मौजूदगी मे तमाम बादशाह और राष्ट्रपति छोटे हो जाते है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.