इस वजह से कभी पिता नहीं बन पाए दिलीप कुमार, शाहरुख़ खान को देखते ही कहा था बेटा..

July 7, 2021 by No Comments

बॉलीवुड के दिग्गजों अभिनेता दिलीप कुमार ने आज मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में अपनी आखिरी सांसें ली है। दरअसल वह बीते काफी वक्त से बीमार चल रहे थे और कई बार अस्पताल में भर्ती हो चुके थे।

दिलीप कुमार की पत्नी सायरा बानो हमेशा उनके साथ साए की तरह रहा करती थी। अब उनके चले जाने के बाद सायरा बानो पूरी तरह से टूट चुकी है। दरअसल इन दोनों ने हमेशा अपनी जिंदगी अकेले एक दूसरे के साथ ही गुजारी है। क्योंकि इनका कोई भी बच्चा नहीं था।

इस बारे में दिलीप कुमार ने अपनी ऑटोबायोग्राफी ‘द सब्स्टांस एंड द शेडो’ में बताया था कि सायरा जब पहली ग’र्भवती हुईं तो उन्हें ब्लड प्रेशर की समस्या हो गई थी। जिस वजह से 8 महीने के गर्भ में पल रहे बच्चे को सर्जरी के जरिए पैदा नहीं किया जा सकता और इसी वजह से गर्भ में ही द’म घु’टने के कारण उसकी मौ’त हो गई।

दरअसल फिल्म अभिनेत्री और दिलीप कुमार की पत्नी सायरा बानो को ब्लड प्रेशर की समस्या थी। यह बात तब की है जब 1972 में सायरा बानो पहली बार प्रेग्नेंट हुई ब्लड प्रेशर की समस्या के चलते उनके पहले बच्चे की ग’र्भ में ही सांस रुक जाने की वजह से मौ’त हो गई थी।

इसके बाद वह इस समस्या के चलते कभी दोबारा मां नहीं बन सकी। इस बात का दोनों को ही काफी अफसोस रहा। अपनी कोई संतान ना होने की वजह से दिलीप कुमार फिल्म अभिनेता शाहरुख खान को अपना बेटा मानते थे।

एक इंटरव्यू के दौरान सायरा बानो ने बताया था कि दिलीप कुमार शाहरुख खान से पहली बार तब मिले। जब उन्हें उनकी फिल्म दिल आशना है कि औरत के लिए बुलाया गया था। तब उन्होंने औपचारिक रुप से तालियां बजाई। सायरा ने आगे कहा कि मैंने हमेशा से कहा है कि अगर हमारा बेटा होता तो वह शाहरुख की तरह दिखता।

दिलीप कुमार और सायरा बानो की प्रेम कहानी इस दुनिया के लिए मिसाल है। दोनों की उम्र में 22 साल का अंतर होने के बावजूद भी उनके रिश्ते पर कभी इसका असर नजर नहीं आया। सायरा अपने पति दिलीप से बइंतहा मोहब्बत करती हैं और इस बात का सबूत उन्होंने हर मोड़ पर अभिनेता का साथ देकर दिया है। दिलीप और सायरा की मोहब्बत शादी के अंजाम तक तो पहुंची लेकिन कभी माता-पिता ना बन पाने का दुख उन्हें हमेशा रहेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *