महाराष्ट्र विधानसभा चु’नाव सर पर हैं। अब चु’नाव प्रचार का दौर भी शुरू ओ चुका है, हर प्र’त्याशी अपनी ओर से जीतने के लिए एड़ी चोटी का ज़ो’र लगा रहा है। इसके लिए वह हर पैं’तरा आज़माने को तैयार है। जब भी चु’नाव होते हैं, तो हर प्र’त्याशी की नज़र हिंदू और मु’स्लिम वो’टरों पर लगी रहती है। वह उन्हें अपने प’क्ष में करने के लिए हर तरी’का आज़माते हैं। उल्लेखनीय है कि इस बार शिवसेना से एक ऐसी प्र’त्याशी चु’नावों में कि’स्मत आज़’माने जा रही हैं जो अपने दोनों नामों के प्रयोग से हिंदू और मु’स्लिम दोनों का अपनत्व हासिल करने की कोशिश कर रही हैं।

बता दें कि महाराष्ट्र की मुंब्रा विधा’नसभा सीट से चुनाव में उतरीं शिवसेना प्रत्याशी दीपाली स’य्यद पहले भी चु’नावों में खड़ी हो चुकी हैं। 2014 में अहमदनगर लोकसभा सीट से आम आदमी पार्टी के टिकट पर चु’नाव लड़ कर दीपाली चु’नाव हार गयीं थीं। अब जीत के लिए उन्होंने शिवसेना का दामन थामा है। दीपाली हिंदू इलाक़ो में अपने नाम दीपाली से वो;ट माँग रही हैं। वहीं जब वो मु’स्लिम बहुल इलाक़ों में जाती हैं तो सो’फ़िया सै’य्यद नाम से वो;ट मांगती हैं।

Shivsena

लेकिन ऐसा करके वो किसी को धो’का नहीं दे रही हैं। हम आपको बता दें कि दीपाली स’य्यद मराठी फिल्मों की एक्ट्रेस हैं,और उनका मूल नाम दीपाली भोंसले है। जो शादी के बाद सो’फिया स’य्यद हो गया है। लेकिन बात करें विधानसभा चु’नावों में नामां’कन की तो दीपाली ने नामां’कन में दीपाली स’य्यद नाम से अपना नामां’कन कराया है। अपना नाम बदलकर चु’नाव प्र’चार करने की बात पर दीपाली का कहना है कि “नाम का बहुत बड़ा असर होता है इसलिए जिस इलाके में जाती हूं वैसे ही नाम का प्रयोग करती हूं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.