गुरुद्वारे में नमाज़ पढ़ने से मुस्लिमों ने इस वजह से किया था इनकार, अगले हफ्ते होगा अंतिम फैसला…

November 21, 2021 by No Comments

दिल्ली से सटे गुरुग्राम में मुसलमानों को जुमा की नमाज़ पढ़ने को लेकर गुरुद्वारा सिंह सभा समिति ने घोषणा की थी कि मुसलमानों के लिए अपने परिसर में शुक्रवार की नमाज अदा करने के लिए वह अपने दरवाजे खोल रही है लेकिन मिलेनियम सिटी के किसी भी गुरुद्वारे में मुसलमानों ने जुमे की नमाज अदा नहीं की अब गुरुद्वारा कमेटी का बयान सामने आया है ।

उन्होंने अपने बयान में कहा कि गुरुपर्व समारोह के कारण मुसलमानों ने खुद किसी भी संघर्ष से बचने के लिए गुरुद्वारे में शुक्रवार की नमाज अदा करने से इनकार कर दिया समिति ने कहा कि इस पर अंतिम निर्णय अगले सप्ताह लिया जाएगा आपको बता दें इससे पहले 18 नवंबर को गुरुग्राम में सदर बाजार के गुरुद्वारा एसोसिएशन ने सार्वजनिक और खुले स्थानों पर मुसलमानों जुमा की नमाज अदा करने पर आपत्तियों के बाद अपने परिसर में नमाज़ पढ़ने की पेशकश करने का फैसला किया था।

मीडिया से बात करते हुए गुरुद्वारा प्रबंधन समिति के प्रवक्ता दया सिंह ने कहा, समिति ने नमाज़ के लिए जगह देने का फैसला किया था अगर मुसलमानों को समस्या हो रही है तो उन्हें यहां नमाज़ पढ़ने की अनुमति दी जाएगी लेकिन गुरुपरब के कारण शुक्रवार को मुसलमानों ने खुद किसी भी विवाद से बचने के लिए यहां नमाज पढ़ने से इनकार कर दिया था हम अगले हफ्ते नमाज पर अंतिम फैसला लेंगे

उनका कहना था जब हम कांवड़ यात्रा या नगर कीर्तन निकाल सकते हैं तो सार्वजनिक या खुले स्थान पर नमाज अदा करने में कोई समस्या क्यों है? 1984 के दंगों में मुसलमानों ने हजारों सिखों की जान बचाकर भाईचारे का संदेश दिया था आपको बता दें कि पिछले दिनों गुरुग्राम (गुड़गांव) प्रशासन ने 37 निर्धारित स्थलों में से आठ पर नमाज अदा करने की अनुमति वापस ले ली थी इससे पहले कई मौकों पर गुरुग्राम के निवासियों ने सार्वजनिक मैदान पर जुमे की नमाज के खिलाफ शिकायत की थी और विरोध प्रदर्शन किया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published.