होली को लेकर मुस्लिम धर्मगुरुओं की बड़ी पहल , होली के दिन मुस्लिम ..

इस बार होली जुमे की नमाज और शब-ए-बरात एक ही दिन है. ऐसे में मौके की नजाकत को देखते हुए लखनऊ की 22 मस्जिदों में जुमे की नमाज देर से पढ़ी जाएगी.इसके लिए इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के सुन्नी मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने मुस्लिम समुदाय के लिए एडवाइजरी जारी की है.उन्होंने कहा है कि आम तौर पर जुमे की नमाज और खुतबा दोपहर 12:30 बजे पढ़ा जाता है।

लेकिन इस बार होली के चलते ज्यादातर मस्जिदों में नमाज 1:30 बजे के बाद पढ़ी जाएगी. साथ ही मुसलमानों से सावधानी बरतने का आग्रह करते हुए,उन्हें सलाह दी है कि वे अपने पड़ोस की मस्जिदों में ही जुमे की नमाज अदा करें.

जानकारी के मुताबिक, इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया (ICI) के सुझाव के बाद होली के दिन जुमे की नमाज के समय में परिवर्तन किया गया है.

साथ ही बताया जा रहा है कि लखनऊ के जिन 22 मस्जिदों में जुमे की नमाज के समय में परिवर्तन किया गया है.उनमें ऐशबाग ईदगाह स्थित जामा मस्जिद,अकबरी गेट स्थित एक मीनार मस्जिद और मस्जिद चौक स्थित मस्जिद शहमीना शाह सहित अन्य धार्मिक स्थल शामिल हैं.

इन मस्जिदों में जुमे की नमाज 1:30 बजे होगी. वहीं, ईदगाह स्थित जामा मस्जिद में नमाज दो बजे पढ़ी जाएगी.
इसी तरह मस्जिद शहमीना शाह में जुमे की नमाज 1:00 बजे की जगह 1:30 अदा की जाएगी.

‘हिन्दुस्तान’ में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, मौलाना राशिद फिरंगी महली ने सभी मस्जिदों को एक एडवाइजरी जारी की है.

इस एडवाइजरी में कहा गया है कि होली के दिन किसी तरह की अप्रत्याशित घटना को रोकने और शांति बनाए रखने के लिए जुमे की नमाज का टाइम बदल दिया गया है.

एडवाइजरी में ये भी कहा गया है कि होली के दिन मुसलमान किसी दूर की मस्जिद में नमाज पढ़ने की बजाय अपने घर के पास की मस्जिद में नमाज पढ़ें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.