बिहार में थर्ड फ्रंट ने संभाला मोर्चा, नए गठबंधन के ऐलान के बाद हुई बड़ी घोषणा..

October 14, 2020 by No Comments

बिहार विधानसभा चुनाव में थर्ड फ्रंट की आहट बीते कुछ दिनों से ही सुनाई दे रही है। माना जा रहा है कि इस बार के विधानसभा चुनाव में महागठबंधन और एनडीए के बीच ज’बरद’स्त ट’क्कर देखने को मिल सकती है। लेकिन कुछ छोटे राजनीतिक दल दोनों के लिए ही मु’सी’बत बन सकते हैं।

बताया जा रहा है कि बिहार में बनने वाले थर्ड फ्रंट का ऐलान कर दिया गया है। इस मोर्चे में रालोसपा के अलावा ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन, बसपा समाजवादी दल डेमोक्रेटिक और जनतांत्रिक पार्टी सोशलिस्ट भी शामिल है। बिहार विधानसभा चुनाव में थर्ड फ्रंट की आहट बीते कुछ दिनों से ही सुनाई दे रही है।

माना जा रहा है कि इस बार के विधानसभा चुनाव में महागठबंधन और एनडीए के बीच ज’बरद’स्त टक्कर देखने को मिल सकती है। लेकिन कुछ छोटे राजनीतिक दल दोनों के लिए ही मुसीबत बन सकते हैं। इस मामले में ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष ओवैसी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि बिहार में बीते 30 सालों यानि 15 साल नीतीश कुमार-बीजेपी और 15 साल के राजद -कांग्रेस के शासन के दौरान गरीबों का कोई फायदा नहीं हुआ, भविष्य में इस स्थिति को बदलने के लिए नया गठबंधन बनाया गया है।

तीसरे मोर्चे में शामिल सभी दलों के नेताओं के साथ पटना के मॉर्या होटल में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने पिछली सरकारों पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि ’15 साल नीतीश कुमार और बीजेपी, और राजद -कांग्रेस के 15 साल में बिहार के गरीबों को फायदा नहीं मिला है। प्रदेश सा’मा’जिक-आर्थिक और शैक्षणिक मानकों में पीछे है। बिहार के भविष्य के लिए एक गठबंधन बनाया गया है, हम कामयाब होने के लिए सारे जतन करेंगे।’

आपको बता दें कि इस नए फ्रंट के नेताओं ने देवेंद्र यादव को इसका संयोजक बनाया है। जिसमें उपेंद्र कुशवाहा को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया गया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *