सिंधिया के गढ़ में कमलनाथ की बड़ी सें’ध, भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए ये दिग्गज नेता..

September 9, 2020 by No Comments

बहुत ही जल्द मध्यप्रदेश में विधानसभा उप चुनाव होने वाले हैं। जिससे पहले भारतीय जनता पार्टी को राज्य में एक बड़ा झ’टका मिल गया है। बताया जा रहा है कि राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने भारतीय जनता पार्टी के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के गढ़ में बड़ी सें’धमा’री की है।

खबर के मुताबिक साल 2018 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के उम्मीदवार रहे सतीश सिकरवार ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली है। पूर्व सीएम कमलनाथ की मौजूदगी में सैकड़ों की संख्या में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की है। ये बीजेपी के लिए ग्वालियर-चंबल में बड़ा झ’टका माना जा रहा है।

आपको बता दें कि सतीश सिकरवार ग्वालियर के बड़े नेता के तौर पर जाने जाते हैं। ज्योतिराज सिंधिया के साथ उनके लोगों के आने से सतीश सिकरवार ना’राज चल रहे थे। बताया जाता है कि पिछले चुनाव में कांग्रेस के मुन्नालाल गोयल से चुनाव हा’र गए थे। उपचुनाव में ग्वालियर पूर्व से मुन्नालाय गोयल ही बीजेपी के उम्मीदवार होंगे। अं’दरू’नी क’लह से ग्वालियर-चंबल में जूझ रही बीजेपी के लिए बड़ा झ’टका माना जा रहा है।

चर्चा है कि बीजेपी के कई असं’तुष्ट लोग कांग्रेस के संपर्क में हैं। आपको बता दें कि सतीश सिकरवार की पा’रिवा’रिक पृ’ष्ठभू’मि बीजेपी की है। उनके पिता गजराज सिंह और भाई सत्यपाल सिंह भी बीजेपी से विधायक रह चुके हैं। लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया के लोगों के आने से बीजेपी के पुराने नेताओं की पार्टी में अ’नदेखी हो रही है। वहीं, ग्वालियर-चं’बल में लगातार बीजेपी के दिग्गज नेता अपने नेताओं को मनाने में जुटे हैं।

दरअसल 2018 के विधानसभा चुनाव में सतीश सिकरवार कांग्रेस के मुन्नालाल गोयल से 17,819 वोटों से हा’र गए थे। एक बार फिर से इस सीट पर गोयल और सिकरवार में ही मु’काब’ला है। गोयल अब बीजेपी में हैं, तो सिकरवार कांग्रेस में हैं। चर्चा है कि ग्वालियर पूर्व से मुन्नालाल गोयल के खि’लाफ कांग्रेस सतीश सिकरवार को ही मैदान में उतारेगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *