राजस्थान में फिर मचा सियासी घमासान, पायलट खेमे ने फिर खोला गहलोत सरकार के खिलाफ मोर्चा..

March 11, 2021 by No Comments

राजस्थान में एक बार फिर से अशोक गहलोत के खेमे और सचिन पायलट के मैच के बीच अनबन की खबरें सामने आने लगी है। दरअसल सचिन पायलट कल 6 महीने फिर गहलोत सरकार के खिलाफ न सिर्फ पर नाराजगी जाहिर की है। इसके साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर जु’बानी ह’मला भी बोला है।

खबर के मुताबिक पायलट के में के सीनियर विधायक रमेश मीणा ने आ’रोप लगाया है कि वह भ्र’ष्टा’चार का एक मामला विधानसभा में उठाना चाहते थे। उन्हें रोकने के लिए ऐसी सीट आवंटित की गई जिस पर माइक ही नहीं था। कांग्रेस विधायक रमेश मीणा ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर ह’मला बोलते हुए कहा कि पार्टी के द’लित विधायकों के साथ सदन में सौतेला बर्ताव किया जा रहा है। वह एक अस्पताल को टोकन मनी पर जमीन अब तक में भ्र’ष्टाचा’र का मुद्दा उठाना चाहते थे। लेकिन उठा नहीं पाए।

उन्होंने गहलोत सरकार पर आ’रोप लगाया है कि सत्ताधारी पार्टी के द’लित विधायकों को विधानसभा सदन में ऐसी सीटें दी जा रही है। जहां पर माइक नहीं लगा हुआ है। दरअसल कांग्रेस नेता रमेश मीणा के नि’शाने पर गहलोत थे, लेकिन मुखातिब स्पीकर से थे। विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी भी जानते थे कि मीणा का निशाना कहां पर है लेकिन जोशी ने और साफ कर दिया कि कौन कहां बैठेगा। किसकी सीट पर माइक है या नहीं ये संसदीय कार्य मंत्री का काम है। गहलोत सरकार ने सफाई दी कि सभी को सदन में बोलने का अधिकार है किसी ने रोका नहीं गया।

दरअसल 15 दिन पहले अशोक गहलोत और सचिन पायलट एक साथ ही हेलीकॉप्टर से 2 किसान रैली में पहुंचे थे। तब यह अंदाजा लगाया गया था कि दोनों फिर से नजदीक आ रहे हैं। लेकिन पायलट खेमे के विधायक के आरोप के बाद फिर से साफ नजर आ रहा है कि पायलट और गहलोत खेमे में अविश्वास की दरार कम होने की बजाय बढ़ रही है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *