यूपी में भाजपा को बड़ा झटका, पार्टी के ये दिग्गज नेता 17 समर्थकों संग कांग्रेस में शामिल..

April 5, 2021 by No Comments

उत्तर प्रदेश में जल्द ही त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने वाले हैं। इसके लिए हर राजनीतिक दल द्वारा बढ़-चढ़कर चुनाव प्रचार किए जाने की खबरें सामने आ रही हैं। बताया जाता है कि पंचायत चुनाव के लिए अधिसूचना जारी होने के बाद अमेठी में भारतीय जनता पार्टी को एक बड़ा झटका मिलने का मामला सामने आया है।

दरअसल एक तरफ जहां पंचायत चुनाव में जीत हासिल करने का दावा भाजपा द्वारा किया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ यहां पर भाजपा और सरकार की नीतियों से नाराज होकर जामो ब्लाक अंतर्गत संभाई गांव के रहने वाले स्थानीय नेता धर्मराज सिंह ने अपने 17 समर्थकों के साथ कांग्रेस कार्यालय पहुंचकर कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण करते हुए उसका दामन थाम लिया है।

भारतीय जनता पार्टी को छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने के बाद पार्टी नेता धर्मराज सिंह ने कहा है कि उनका भाजपा को छोड़ने का कारण सरकार की नीतियां हैं। इसी के साथ साथ हमको यह भी लगा कि भारतीय जनता पार्टी में ना तो हमारा और ना ही हमारे कार्यकर्ताओं का सम्मान हो रहा है।

उन्होंने कहा है कि हमने भारतीय जनता पार्टी को छोड़कर आज कांग्रेस पार्टी की सदस्यता हासिल कर ली है। वहीं पर उन्होंने कांग्रेस ज्वाइन करने के बाद भाजपा पर गं’भीर आरोप लगाए थे।

कांग्रेस पार्टी के नेता ने कहा है कि यह अपने क्षेत्र के मजबूत स्तंभ के रूप में भाजपा नेता आ रहे हैं और अब इनको कांग्रेस पार्टी की नीतियों पर अपना विश्वास जताते हुए भाजपा छोड़कर अपने 17 समर्थकों के साथ कांग्रेस में शामिल हुए हैं। यूपी चुनाव से पहले कांग्रेस इसके लिए भाजपा छोड़कर पार्टी में शामिल होने वाले नेताओं से काफी फायदा हो सकता है।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनाव हर राजनीतिक दल के लिए काफी महत्वपूर्ण माने जा रहे हैं। अमेठी जिले के 952 लोगों पर जिला पंचायत के विभिन्न मदों की बकायेदारी है। ऐसे में अगर यह लोग त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में भाग लेना चाहते हैं तो पहले इन्हें अपने बकाये की रकम चुकानी होगी। जिला पंचायत ने जिला निर्वाचन कार्यालय और सभी ब्लाकों को बकायेदारों की सूची भेज दी है।

कांग्रेस


जिला पंचायत, क्षेत्र पंचायत और ग्राम पंचायत के चुनाव में भाग लेने वाले सभी प्रत्याशियों को जिला पंचायत से अदेय प्रमाण पत्र प्राप्त करना होता है। बिना अदेय प्रमाण पत्र के उनकी प्रत्याशिता स्वीकार नहीं की जाती। जिला पंचायत अमेठी के बकायेदारों की सूची खासी लंबी है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *