महाराष्ट्र में राजनीतिक घमा’सान तेज़ी से बढ़ता जा रहा है। राज्य की उद्धव ठाकरे सरकार इन दिनों भारतीय जनता पार्टी का निशा’ना बनी हुई है। इसी सिलसिले के बीच अब मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और शरद पवार को आयकर विभाग की तरफ से एक नोटि’स भेजा गया है। यही नहीं बल्कि उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे और शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले को भी इनकम टैक्स डिपा’र्टमेंट से नोटि’स भेजा गया है। बीते चुनाव में दा’खिल किए गए एफि’डेविट को लेकर यह नोटि’स दिया गया है। खबरों के अनुसार, इन नेताओं पर आरो’प लगाया गया है कि इन विधायकों ने इले’क्शन के लिए को हलफ’नामा दिया था, उसमें गल’त और अधू’री जानकारी दी गई हैं।

मिली जानकारी मुताबिक, शिकायत’कर्ताओं ने यह दावा किया है और साथ ही कुछ डॉक्यु’मेंट्स भी पेश किए हैं, जिससे पता चलता है कि इन नेताओं ने हलफ’नामे में गल’त जानकारियां भरी हैं। इन्हीं डॉक्युमेंट्स को देखने के बाद ही चुनाव आयोग ने इस माम’ले की जां’च को सीबीडीटी के हवा’ले कर दी है। फिलहाल चुनाव आयोग सीबीडीटी की जां’च रि’पोर्ट का इंतजार कर रही है। यदि इन नेताओं पर लगे आरो’प सही निकलते हैं तो रिप्रजेटेंशन ऑफ पीपल एक्ट की धा’रा 125 ए के तहत इनके खि’लाफ के’स द’र्ज किया जा सकता है, जिससे इन्हे 6 महीने की जे’ल या जुर्मा’ना अदा करना पड़ सकता है।

Pawar-Uddhav

वहीं इसपर में शरद पावर ने बिना नाम लिए केंद्र सरकार पर तं’ज कसा है। उन्होंने कहा, “मुझे कल इनकम टैक्स का नोटिस मिला है। सुप्रिया को भी आज या कल नोटिस मिल जाएगा, अच्छी बात है कि सभी संसद सदस्यों में से हमें ही नो’टिस मिल रहा है और हमें ही चुना जा रहा है, कुछ लोगों को हमसे अधिक प्रेम है इसलिए नो’टिस मिल रहा है।” बता दें कि एक्ट्रेस कंगना रनौत, सुशांत सिंह राजपूत सुसा’इड के’स और कोरो’ना वाय’रस को लेकर लापर’वाही को लेकर भी बीजेपी शिवसेना को टार’गेट किए हुए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.