नागरि’कता संशो’धन का’नून और राष्ट्रीय नाग’रिक रजि’स्टर के ख़िला’फ़ देश भर में प्रद’र्शन तो चल ही रहे हैं इसी बीच गृहमंत्री अमित शाह ने घोष’णा की; कि अब NPR होगा जिससे सिर्फ़ नाग’रिकों की जान’कारी ली जाएगी। इसके ख़िला’फ़ न सिर्फ़ देश के युवा बल्कि AIMIM प्रमुख असदु’द्दीन ओ’वैसी ने भी अपना विरो’ध द’र्ज किया है। उन्होंने संसद में तो अपनी बातें रखीं ही साथ ही अब वो एक सार्व’जनिक सभा करने वाले हैं। ऐसे में भाजपा के एक नेता ने बड़ा ब’यान देते हुए ओ’वैसी को जे’ल में डा’ल देने की बात कह दी।

तेलं’गाना के निज़ा’माबाद के भाजपा सां’सद अर’विंद ध’र्मपुरी ने अस’दुद्दीन ओ’वैसी पर हम’ला करते हुए ये सवा’ल उठाया है कि “तेलं’गाना नगरपालिका चु’नावों से पहले निज़ा’माबाद में आ’चार सं’हिता ला’गू होने के बाद भी अस’दुद्दीन ओ’वैसी एक सा’र्वजनिक सभा बुलाने की बात कह रहे हैं। वो ऐसा नहीं कर सकते। इसके मैंने जिला कलेक्टर, चु’नाव आ’योग और पु’लिस को इस बात की सू’चना दी है”

Arvind Dharmpuri

आगे ओवै’सी के ब’यानों पर अपनी प्रतिक्रि’या देते हुए ध’र्मपुरी ने कहा कि “असदु’द्दीन ओ’वैसी यहाँ देश को बाँ’टने के लिए आ रहे हैं। क्या वह बां’ग्लादेश और पा’किस्तान से आने वाले लोगों के लिए ल’ड़ना चाहते हैं? वह एक राष्ट्र-विरो’धी के रूप में काम कर रहे हैं। उन पर देशद्रो’ह का मु’कदमा द’र्ज किया जाना चाहिए और उन्‍हें हमेशा के लिए सला’खों के पी’छे भेज दिया जाना चाहिए”

इस ब’यान के बाद अस’दुद्दीन ओ’वैसी का क्या जवा’ब आता है ये देखने की बात होगी। हाल ही में NPR के बारे में बात करते हुए ओ’वैसी ने गृहमंत्री अमित शाह की ओर क’ड़ा रु’ख़ अप’नाते हुए कहा था कि “वे लोग नाग’रिकता अधिनि’यम, 1955 के मु’ताबिक एनपीआर करने जा रहे हैं, तो क्या यह एनआरसी से जुड़ा हुआ नहीं है? केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह देश को गुम’राह क्यों कर रहे हैं? उन्होंने मेरा नाम सं’सद में लिया और कहा ओवैसी जी एनआरसी को पूरे देश में ला’गू किया जाएगा।

Amit Shah

ओवैसी ने आगे कहा कि “अमित शाह साहब! जिस वक़्त तक सूरज पूर्व दिशा से उगता रहेगा हम सच बोलते रहेंगे। एनआरसी के लिए पहला क़द’म है एनपीआर। जब अप्रैल, 2020 में एनपीआर पूरा हो जाएगा, अधिकारी डॉक्यूमेंट्स के लिए पूछेंगे। उसके बाद फिर आखिरी लिस्ट एनआरसी में आएगा”

Leave a Reply

Your email address will not be published.