जमात से नमाज पढ़ने पर मुरादाबाद पुलिस का यू-टर्न, नमाज़ियों पर दर्ज केस को ओवैसी के बयान के बाद….

August 30, 2022 by No Comments

यूपी के मुरादाबाद में छजलैट थाना के गांव दूल्हेपुर में एक घर में सामूहिक रूप से नमाज़ पढ़ने वाले 26 लोगों पर मुकदमा दर्ज होने का मामला बड़ा हो गया है. इसे लेकर राजनीति शुरू हो गई है. AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने ट्वीट करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी से सवाल भी किया है. वहीं अन्य मुस्लिम नेता भी इसे गलत बता रहे हैं अब इस मामले में नया मोड़ सामने आया है ।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में घर के अंदर जमात से नमाज पढ़ने के मामले में नया मोड़ आया है कल तक जो मुरादाबाद पुलिस ट्विटर पर कह रही थी कि कुछ लोगों ने समाज में शत्रुता, घृणा, वैमनष्यता की भावना उत्पन्न करने के उद्देश्य से सामूहिक रूप से जगह बदल-बदलकर नमाज अदा की आज वही पुलिस इस पूरे मामले को गलत बता रही है जमात से नमाज़ मामला सामने आने के बाद पुलिस ने 26 लोगों पर केस दर्ज किया था।

इस मामले में AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था, ‘क्या अब घरों में भी नमाज पढ़ने के लिए सरकार और पुलिस से इजाजत लेनी पड़ेगी, कब तक मुस्लिमों के साथ देश में दूसरे दर्जे के नागरिकों वाला सलूक किया जाएगा? वही जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भी तंज कसते हुए कहा था, ‘मुझे यकीन है कि अगर किसी पड़ोसी के यहां 26 दोस्त और रिश्तेदार एक साथ बैठकर हवन करेंगे तो किसी को कोई दिक्कत नहीं होगी।

न्यूज़ 24 के अनुसार Owaisi के बयान के बाद नमाजियों पर दर्ज केस को हटाया गया इस से पहले मुरादाबाद पुलिस ने घर में नमाज पढ़ने वाले 26 लोगों पर लिखा था मुकदमा SSP बोले-‘विवेचना में आरोप प्रमाणित नहीं होने पर केस को एक्सपंज किया जा रहा है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.