पटनाः बिहार की सियासत में बड़ा नाम रखने वाले मुहम्मद शहाबुद्दीन की मौत के बाद से ही सियासी गलियारों में चर्चाएँ तेज़ हैं. सीवान के क़द्दावर बाहुबली नेता और पूर्व सांसद शहाबुद्दीन की मौत के बाद उनके परिवार को अपने पाले में करने की कोशिश जदयू की ओर से हुई है. हालाँकि परिवार पूरी तरह से राजद के साथ बताया जा रहा है.

खबर है कि बिहार में भाजपा के द्वारा टुन्ना पांडेय को पार्टी से निष्कासित करने के बाद से दल बदल की राजनीति शुरू हो गई है। जहां एक तरफ भाजपा से निष्कासित होने के बाद टुन्ना पांडेय को कांग्रेस ने पार्टी में शामिल होने का न्योता दिया है, वहीं अब जदयू ने शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब और बेटे ओसामा को पार्टी में शामिल होने का न्योता दिया है।

अब देखना यह होगा कि शहाबुद्दीन की पत्नी और बेटा इस ऑफर को अपनाते हैं या फिर ठुकरा देते हैं। दरअसल, जदयू सांसद कविता सिंह के पति एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी माने जाने वाले अजय सिंह ने मोहम्मद शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब और ओसामा शहाब को जदयू में शामिल होने का न्योता दिया है। उनका कहना है कि हमें लोगों से घृणा नहीं है, लोगों के गंदे विचार से घृणा है।

वैसे भी जो दुनिया में ही नहीं है, उससे क्या लड़ना। अगर शहाबुद्दीन के परिजनों को जदयू का सिद्धांत और मुख्यमंत्री की कार्यशैली पसंद है, तो वो लोग आ सकते हैं। उनके और हमारे विचार अगर मिलते है तो, उनका स्वागत है। वहीं इससे पहले कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजीत शर्मा ने टुन्ना पांडेय को पार्टी से निकलने को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया।
Nitish Kumar
उन्होंने कहा कि अगर टुन्ना पांडेय कांग्रेस में आना चाहते हैं, तो उनका स्वागत है। बता दें कि टुन्ना पांडेय को हाल ही में नीतीश कुमार के खिलाफ टिप्पणी करने पर भाजपा ने पार्टी से निष्कासित कर दिया था। टुन्ना पांडेय ने शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा से भी मुलाकात की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.