कोरो’ना वाय’रस का कहर लगातार जारी है। आए दिन बड़ी तादाद में लोगों की मौ’त की खबर सामने आ रही हैं। बता दें कि कोरो’ना से संक्रमि’त हुए पत्रकार नीलांशु शुक्ला का मंगलवार को नि’धन हो गया है। बताया जा रहा है कि बीते काफी दिनों से वह कोरो’ना संक’ट से ल’ड़ रहे थे और मगलवार के दिन उन्होंने दम तो’ड़ दिया। नीलांशु शुक्ला NDTV के कर्मचारी रह चुके हैं और हाल ही में वह India today group से जुड़े हुए लखनऊ ब्यूरो में काम कर रहे थे। बता दें नीलांशु शुक्ला की मौत को लेकर प्रियंका गांधी ने दुख जताया है और इस कोरो’ना महामा’री के बीच पत्रकारों के लिए सरकार से इंश्यो’रेंस कवर की मांग की है।

प्रियंका ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक पोस्ट करते हुए लिखा कि “बहुत ही दु’खद खबर। लखनऊ के नौजवान पत्रकार नीलांशू शुक्ला जी हमारे बीच नहीं रहे। वो कई दिनों से कोरो’ना से ल’ड़ाई ल’ड़ रहे थे। नीलांशू शुक्ला जी एक होनहार पत्रकार थे। कई बार मैंने स्वयं उन्हें कार्य करते देखा है। भावभीनी श्रद्धांजलि। ईश्वर इस दुख की घड़ी में उनके परिजनों को कष्ट सहने का साहस दें। मैंने पहले भी इस मुद्दे को उठाया था कि पत्रकार साथी इस संक’ट के समय में सूचनाएं देने का महत्वपूर्ण कार्य कर रहे हैं। यूपी सरकार को नीलांशू शुक्ला जी के परिवार को आर्थिक मदद व सभी पत्रकारों को बीमा कवर देना चाहिए।”

मिली जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि वह कुछ समय पहले ही कोरो’ना वाय’रस से संक्रमि’त पाए गए थे जिसके बाद उनको कानपुर के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया। लेकिन अस्पता’ल में इला’ज के दौरान उनकी दिन ब दिन हालत बिगड़ती गई। जिसके बाद डॉक्टर्स ने उनकी हालत को देखते हुए वेंटिलेटर सपोर्ट पर रख दिया। बताया जा रहा है कि उनको 2 बार प्लाज़्मा थेरेपी भी दी गई थी। लेकिन मंगलवार सुभा हालत बिगड़ने के कारण उनकी मौ’त हो गई। नीलांशु की उम्र 35 साल से भी कम थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.