अब कमल नाथ कांग्रेस में छोड़ने जा रहे ये पद, जल्द ले सकते हैं बड़ा फैसला..

December 9, 2020 by No Comments

हाल ही में मध्य प्रदेश में हुए विधानसभा उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने बहुमत हासिल कर राज्य में सत्ता बरकरार रखी है। अब 28 दिसंबर से 3 जनवरी तक मध्यप्रदेश में विधानसभा का शीतकालीन सत्र शुरू होने वाला है। लेकिन अभी तक नए प्रतिपक्ष नेता का चयन नहीं हो पाया है।

दरअसल वर्तमान में कांग्रेस नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पीसीसी चीफ और नेता प्रतिपक्ष दोनों की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। लेकिन अब कमलनाथ दोनों ही पदों में से एक को छोड़ने के मूड में नजर आ रहे हैं। आपको बता दें कि हाल ही में कमलनाथ ने यह बयान दिया था कि वह 1 साल 2023 तक मध्य प्रदेश में सक्रिय राजनीति करेंगे और उनका सबसे बड़ा मकसद इस वक्त राज्य में पार्टी संगठन को और मजबूत करना है। ऐसे में कमलनाथ पीसीसी चीफ के पद पर बने रहना चाहते हैं और नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी किसी और को सौंपने की तैयारी कर रहे हैं।

 

दरअसल नेता प्रतिपक्ष कौन होगा इसको लेकर प्रदेश के सियासी गलियारों में राजनीति गरमाई हुई है। पार्टी में नेता प्रतिपक्ष के दावेदारों की कमी नहीं दिख रही है। करीब आधा दर्जन के करीब नेता इस रेस में शामिल है। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी, डॉ. गोविंद सिंह, उमंग सिंधर, बाल बच्चन, सज्जन सिंह वर्मा, विजयलक्ष्मी साधौ और बृजेन्द्र सिंह इस रेस में शामिल है।

साल 2018 में विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की सरकार बनाने में आदिवासी वर्ग का काफी अहम योगदान रहा था। ऐसे में सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक नेता प्रतिपक्ष के चयन में कमल नाथ आ’दिवा’सी कार्ड खेल सकते है। अगर ऐसा होता है तो पूर्व मंत्री बाल बच्चन इस रेस में बाकियों से काफी आगे निकल सकते है।

बाला बच्चन कमल नाथ के सबसे करीबी और विश्वास पत्रों में से एक है। पार्टी सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस पद के लिए पार्टी हाईकमान और कमल नाथ के बीच सहमति बनती दिखाई दे रही है। ऐसे में जीतू पटवारी, डॉ. गोविंद सिंह, उमंग सिंधर, सज्जन सिंह वर्मा, विजयलक्ष्मी साधौ और बृजेन्द्र सिंह इस रेस में पिछते हुए नज़र आ रहें है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *