कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री के एक बयान को लेकर मध्य प्रदेश की सियासत में भूचाल आया हुआ है. कमलनाथ ने भाजपा सरकार की नीति की आलोचना करते हुए कोरोना के नए वैरिएंट को “इण्डियन कोरोना” कह दिया था. अब इसको लेकर भाजपा नेताओं ने मामला बना लिया है.

कमलनाथ के खिलाफ जिन धाराओं में मुक़दमा दर्ज किया गया है उनमें 124ए यानि राजद्रोह वाली धारा भी है, दरअसल कोरोना को ‘इंडियन कोरोना’ और किसानों को ‘भ’ड़काने’ के मामले में कमलनाथ पर एफआईआर दर्ज हुई है, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कमलनाथ के खिलाफ क्राइम ब्रांच ने 124ए, 124-2, 153-2, 188 और 65 के तहत मामला दर्ज किया गया है।
Kamalnath
हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें कमलनाथ कोरोना को ‘इंडियन कोरोना’ कहते हुए नजर आ रहे थे, वीडियो वायरल होने के बाद से ही बीजेपी को बैठे-बिठाए एक मुद्दा मिल गया. धारा 124 ए के तहत दोषी पाए जाने पर दोषी को 3 साल से लेकर अधिकतम उम्रकैद की सजा का प्रावधान है.

उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश और केंद्र की भाजपा सरकार आलोचना के घेरे में चल रही है. राज्य और केंद्र सरकार पर ये आरोप लग रहा है कि उसने कोरोना के खतरे को कम करके आंका जिसकी वजह से हालात इतने बुरे हो गए. कांग्रेस कह रही है कि भाजपा अब असल मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए कमलनाथ का नाम घसीट रही है.

कुल मिलाकार इस नए राजनीतिक मामले से मध्य प्रदेश की सियासत खासी गरमा गई है. कांग्रेस और भाजपा दोनों में बयानबाजी का दौर तेज़ चल रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.