क्या जदयू में शामिल होने जा रहे कन्हैया कुमार? नीतीश कुमार के मंत्री ने कहा- अगर वो…

February 15, 2021 by No Comments

हाल ही में नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ है। जिसका काफी लंबे समय से इंतजार किया जा रहा था। बीते साल नवंबर के महीने में हुए विधानसभा चुनाव के बाद फरवरी में नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल का विस्तार हो पाया है। माना जा रहा है कि भारतीय जनता पार्टी और जनता दल यूनाइटेड के बीच पार्टी के नेताओं को मंत्री पद देने पर पेंच फंसा हुआ था।

इसी बीच सीपीआई नेता कन्हैया कुमार और जदयू नेता अशोक चौधरी के बीच हुई एक मुलाकात मे राज्य में सियासत को दोबारा ग’र्म कर दिया है। दरअसल कन्हैया कुमार ने जदयू नेता अशोक चौधरी से उनके आवास पर मुलाकात की है। इस मुलाकात को औपचारिक भी बताया जा रहा है। लेकिन इस मुलाकात का समय बहुत ही गौर करने वाला है। क्योंकि यह मुलाकात ऐसे वक्त में हुई है। जब सीपीआई ने कन्हैया कुमार के खिलाफ हाल ही में एक मामले के चलते निंदा प्रस्ताव पारित किया है।

जदयू नेता अजय आलोक ने कन्हैया कुमार की विचारधारा को जदयू की विचारधारा से अलग करार दिया। अजय आलोक ने कहा कि ‘कन्हैया कुमार कम्युनिस्ट विचारधारा के हैं और अगर वह अपनी विचारधारा छोड़कर जदयू की विचारधारा को अपनाते हैं और पार्टी के सच्चे सिपाही बनकर काम करना चाहते हैं। तो उनका स्वागत है।’ हालांकि, कन्हैया और चौधरी के करीबी सूत्रों का कहना है कि यह एक “गैर-राजनीतिक” बैठक थी और दोनों एक दूसरे को लंबे समय से जानते हैं।

वहीं, दोनों नेताओं की इस मुलाकात को लेकर भाजपा की भी प्रतिक्रिया आई है। बिहार सरकार में भाजपा कोटे से मंत्री सुभाष सिंह ने कन्हैया कुमार “पा’गल” कहा। इसके साथ ही उन्होंने जदयू के वरिष्ठ नेता के साथ उनकी मुलाकात को गलत करार दिया है।

गौरतलब है कि कन्हैया कुमार पर पिछले साल 1 दिसंबर को पटना में पार्टी के कार्यालय सचिव इंदु भूषण के साथ ब’दसलू’की करने का आ’रोप था। इतना ही नहीं, पिछले हफ्ते हैदराबाद में सीपीआई की अहम बैठक हुई थी। जिसमें उनके खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया गया। बैठक में मौजूद 110 सदस्य में से 3 को छोड़कर बाकी सभी ने प्रस्ताव का समर्थन किया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *