उत्तर प्रदेश में 2022 के चुनाव से पहले ही माहौल तैयार किया जा रहा है रोजाना कोई ना कोई ऐसी घट’ना सामने आ रही है जिस से मुसलमानों के खि’लाफ नफर’त बढ़ सके अब उत्‍तर प्रदेश के कानपुर में कुछ अति’वादी लोगों ने सरेआम एक मुस्लिम रिक्‍शे वाले को पी’टते हुए ‘जयश्री राम’ के ना’रे लगवाए और सड़क पर उसका जुलूस निकाला कानपुर की एक बस्‍ती में दो पड़ोसी कुरैशा और रानी के परिवार में बाइक के मुद्दे को लेकर झग’ड़ा शुरू हुआ था, इसमें कुरैशा ने रानी पर मारपीट की FIR की तो रानी ने कुरैशा के लड़कों पर छे’ड़खा’नी का आ’रोप लगा दिया।

उसके बाद बजरंग दल इस मामले में सामने आया और उसने नई कहानी बनाकर वहां पर प्रदर्शन करने लगे मिली जानकारी के अनुसार आपसी झग’ड़े को ध’र्म परि’वर्तन का मामला बता दिया गया सोशल मीडिया में वीडियो वायरल हो रही है जिसमें पि’टते हुए पिता को बचा’ने के लिए उसकी बच्‍ची लि’पटकर रोती रही लेकिन धर्म के नाम नफरत करने वालों को उस पर र’हम नहीं आया खास बात यह है कि पि’टने वाले अफसार पर न कोई आरो’प है और नहीं उसके खि’लाफ कोई एफआईआर है।

मिली जानकारी के अनुसार ह’मलावर कुरैशा बेगम के घर उनके बेटों को पक’ड़ने गए थे वहां जब उनका बेटा नहीं मिला तो सड़क पर उनका दे’वर हाथ लग गया तो उनके साथ ही मारपीट की घट’ना के पहले बजरंग दल वे वहां पर एक सभा भी की थी कानपुर बजरंग दल के जिला संयोजक दिलीप सिं’ह बज’रंगी कहते हैं, ‘हम हिंदू समाज को आ’हत नहीं होने देंगे हम अपने सना’तन ध’र्म को बचाने के लिए स्‍वयं सक्षम हैं अगर हमारा हिं’दू परिवार किसी भी प्रकार से परे’शान रहेगा तो हम उसके लिए ढाल बनकर खड़े हैं।

वैसे कुरैशा का कहना है कि रानी के दरवाजे पर बाइक ल’ड़ने से शुरू हुए झग’ड़े को सांप्र’दायिक रंग दिया जा रहा है जिसको कुछ मीडिया वालों ने भी बढ़ा चढ़ाकर धर्म परिव’र्तन कराने का नाम देकर खबर चला दी पुलिस ने मौके पर पहुंचकर अफ’सार की जान बचा’ई और उनकी तरफ से कुछ लोगों पर मारपीट की एफआईआर  की है एसीपी कानपुर साउथ, रवीना त्‍यागी ने कहा, ‘जो पीडि़त है उनकी तहरीर के आधार पर कुछ नामजद और कुछ अज्ञा’त व्‍य’क्तियों के खि’लाफ मु’कदमा कायम कर लिया गया है ।

साभार NDTV

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.